You are currently viewing Narayanpur  : भव्य भंडारे का आयोजन अबूझमाड़ के कोहकामेटा में पहली बार
Narayanpur : भव्य भंडारे का आयोजन अबूझमाड़ के कोहकामेटा में पहली बार

Narayanpur : भव्य भंडारे का आयोजन अबूझमाड़ के कोहकामेटा में पहली बार

Narayanpur : भव्य भंडारे का आयोजन अबूझमाड़ के कोहकामेटा में पहली बार

घोटूल नवयुवक युवतियों की समिति ने नवरात्रि पर किया आयोजन

अबूझमाड़ के हजारों ग्रामीण ने किया माता रानी के भंडारे का प्रसाद ग्रहण

नारायणपुर –नारायणपुर जिले के घोर नक्सल प्रभावित अबूझमाड़ के कोहकमेटा में पहली बार नवरात्रि के अवसर पर भव्य भंडारे का आयोजन किया गया जिसमे सैकड़ों भक्तो ने माता के भंडारे का प्रसाद ग्रहण करने पहुंचे ।

भंडारे में बेचा , मुरनार, कोहकामेटा, कानागांव और नारायणपुर के पहुंचे लोगो का कहना है कि पहली बार भंडारे का आयोजन किया गया जिसमे पूरा गांव मिलकर प्रसाद एक साथ ग्रहण करने पहुंचा जो इस बदलते परिवेश और नक्सल दहशत के बीच एक सुखद तस्वीर है ।

जहा कभी सर्फ और सिर्फ नक्सलियों की दहशत नजर आती थी ग्रामीण नवरात्रि का पर्व नही मना पाते थे लेकिन जब से पुलिस कैंप खुला यहाँ बदलाव आया और लोग अब नवरात्रि का पर्व धूमधाम से मना रहे है ।

ज्ञात हो की अबूझमाड़ के कोहकामेटा के घोटूल के पास घोटूल समिति के नवयुवक युवतियों द्वारा सालो बाद नवरात्रि के पर्व पर माता रानी की प्रतिमा पंडाल में स्थापित कर नवरात्रि में सुबह शाम विधि विधान के साथ पूजा अर्चना कर भजन कीर्तन किया गया जिसे अबूझमाड़ का पूरा माहौल भक्तिमय हो गया ।

नवरात्रि के अष्टमी के दिन हवन पूजन कर नौ कन्याओं को भोजन कराया गया । वही नवमी के दिन पहली बार अबूझमाड़ के कोहकामेटा में भव्य भंडारे का आयोजन नारायणपुर के जी मीडिया के पत्रकार हेमंत संचेती , व्यापारी गिरीश जैन और घोटूल नवयुक युवती समिति द्वारा किया गया ।

भंडारे में पूड़ी, चना आलू की सब्जी , खीर और खिचड़ी बनाई गई थी । पहले कन्याओं और छोटे बालको को प्रसाद दिया गया बच्चो ने गायत्री मंत्र का उच्चारण कर प्रसाद ग्रहण किया ।

जिसके बाद हजारों ग्रामीणों ने माता के भंडारे का प्रसाद ग्रहण किया । इस दौरान कोहकामेटा पहुंचे व्यापारी राकेश जैन भी भंडारे में शामिल हुए और प्रसाद वितरण कर प्रसाद ग्रहण किया उन्होंने कहा कि अबूझमाड़ के कोहकामेटा में पहली बार भव्य भंडारे का आयोजन नवरात्रि के पर्व पर किया गया

जिसमे हजारों ग्रामीणों ने भाग लेकर भंडारे का प्रसाद ग्रहण किया जिसे देखकर काफी अच्छा लगा । घोटूल समिति के नवयुवक और युवतियां नवरात्रि में नौ दिन माता रानी की सेवा कर अबूझमाड़ की वादियों में माता रानी के जयकारे की गूंज फैलाकर माहौल भक्तिमय कर दिया ।

इस तरह के आयोजन से ही अबूझमाड़ के बदलते परिवेश की झलक दिखाई देती है । घोटूल समिति के सदस्यो ने कहा कि नवरात्रि पर्व पर घोटूल प्रांगण में पंडाल बनाकर नवरात्रि पर माता रानी की प्रतिमा स्थापित कर पूरे विधिविधान के साथ नौ दिन सुबह शाम पूजा अर्चना की गई ।

नारायणपुर के पत्रकार भाई हेमंत संचेती और व्यापारी गिरीश जैन (गोदू भैया) नवरात्रि के सातवे दिन आए और हमे नवरात्रि के नवमी के दिन भंडारे का आयोजन कर आसपास के सभी गांव वालो को निमंत्रण देने को कहा और भंडारे की पूरी व्यवस्था उनके द्वारा किया जायेगा कहा गया ।

जिसमे बाद हमारी घोटूल समिति ने सहमति दी और नवमी को सभी ने मिलकर सुबह से ही भंडारे का प्रसाद बनाने के कार्य में पत्रकार और व्यापारी भाई के साथ लग गए । भंडारे का प्रसाद ग्रहण करने कनागांव , बेचा , मूरनार, किहकाड और कोहकामेटा के हजारों ग्रामीण पहुंचे भंडारा दोपहर 2 बजे शुरू हुआ जो शाम 7 बजे तक चला ।

भंडारे के आयोजन के लिए हम नारायणपुर के पत्रकार और व्यापारी भैया के आभारी है और प्रतिवर्ष इसी तरह इनका सहयोग हमे प्राप्त होता रहे यही आशा रखते है ।

Leave a Reply