aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल

Bhanupratappur : लक्ष्य मनुष्य के साहस के आगे बड़ा नही होता- प्रियंका शुक्ला

Bhanupratappur : लक्ष्य मनुष्य के साहस के आगे बड़ा नही होता- प्रियंका शुक्ला

Bhanupratappur : लक्ष्य मनुष्य के साहस के आगे बड़ा नही होता- प्रियंका शुक्ला

जिला प्रशासन का हमर लक्ष्य अभियान, 140 बच्चे हुए शामिल

Bhanupratappur : भानुप्रतापपुर। सफलता के लिए लक्ष्य निर्धारित कर कड़ी मेहनत करे,तथा हमेशा खुश रहकर पढ़ाई करे। यह ध्यान रहे कि पढ़ाई आप स्वयं के बेहतर भविष्य के लिए कर रहे है,इसलिए अपना सर्वोत्तम मेहनत करे उक्त बातें हमर लक्ष्य अभियान के तहत

Youtube Channels : 5 करोड़ व्यूज और 20 हजार फॉलोअर्स वाले YouTube चैनल्स पर सरकार ने लगाया बैन, जानिए वजह


कलेक्टर डॉ प्रियंका शुक्ला ने
बच्चों का मोटिवेशन करते हुए कही।

Bhanupratappur : विदित हो कि मार्च माह के प्रथम सप्ताह से ही 10 वी एवं 12 वी बोर्ड की परीक्षा प्रारंभ होने जा रही है। जिसे देखते हुए जिला प्रशासन के द्वारा हमर लक्ष्य अभियान के तहत जिले के बच्चों को परीक्षा में अच्छे अंक हासिल करने उनके मनोबल को बढ़ाने का कार्य किया जा रहा है।
इसी कड़ी में बुधवार को महर्षि बाल्मिकी महाविद्यालय के सभागार में भानुप्रतापपुर विकासखंड के 10 हायर सेकेंडरी व 28 हाई स्कूल के कुल 140 अर्धवार्षिक परीक्षा में टॉपर विद्यार्थी सम्मिलित हुए।

https://www.jandhara24.com/news/136880/big-action-of-chief-minister-baghel-know-why-magarlod-tehsildar-was-removed/


कार्यक्रम के दौरान कलेक्टर डॉ प्रियंका शुक्ला ने विद्यार्थी से संवाद करते हुए आगामी परीक्षा को लेकर उनके मन मे क्या चल रहा है, व कैसे तैयारी करनी चाहिए विस्तारपूर्वक बताया व समझाया गया।
ज्यादातर बच्चों ने कहा कि याद तो रहता है लेकिन परीक्षा के समय भूल जाने की समस्या रहती है इस पर बार बार रिवीजन करने को कहा गया।
उन्होंने कहा कि आज आपके लिए सबसे मूल्यवान समय है, इसे बर्बाद किये तो दुबारा नही आएगा,इसलिए ठान लो अभी नही तो कभी नही। आप अपनी मेहनत से क्या बने?
आप कहा से आ रहे हो यह बात मायने नही रखती बल्कि आप कहा पहुच सकते हो यह खास बात है। फ़िल्म डायलॉग एक बार जो मैं कमिंटमेन्ट कर दिया तो फिर मैं अपने

आप का भी नही सुनता हूँ, मैं चाहती हु कि पढ़ाई व अपने लक्ष्य के प्रति आप लोग भी ऐसा कमिंटमेन्ट करे। क्योंकि लक्ष्य मनुष्य के साहस के आगे बढ़ा नही होता, हारा वही जो लड़ा नही, आप सभी मे कोई प्रतिभा कि कमी नही है, हर चीज जानने की जिज्ञासा होने चाहिए तभी आप सफल होंगे। हमेशा सकारात्मक सोच के साथ आगे बढे निरंतर व

कठिन परिश्रम ही सफलता की कुंजी है, लक्ष्य बड़ा रखे क्षमता अपने आप बढ़ जाता है, असफलता से हार नही माननी चाहिए क्योंकि हार अच्छी चीजों को सिखाती है।
कार्यक्रम के तहत परीक्षा के प्रति बच्चों का भय समाप्त हुआ है वही प्रवीण सूची में लाने कलेक्टर मेडम को आश्वासन दिया है। कई बच्चों का सवाल था कि प्रश्न घुमावदार पूछे

जाते हैं जिससे कन्फ्यूजन होता है। इस पर कलेक्टर ने कहा कि बचे 40 दिनों में शिक्षक बच्चों को घुमा फिरा कर आने वाले प्रश्नों का प्रैक्टिस कराएंगे। जिससे परीक्षा में आसानी से हल कर सके।
जिला शिक्षा अधिकारी भवन जयन कक्षा 10वीं एवं 12वीं के छात्र छात्राओं को स्कूल के अनुसार कोर्स पूरा होने व पढ़ाई की तैयारी को लेकर समीक्षा किया गया। बीईओ सदे सिंह कोमरे, प्राचार्य टीएस ठाकुर, समाजसेवी राजकुमार दुबे ने भी बच्चों को मोटिवेट किया। बीआरसी आरएल नुरूटी, एबीईईओ दुर्गेश सोरी व प्राचार्य व शिक्षक उपस्थित रहे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *