aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल

Indian team : भारत तीन विकेट से जीता दूसरा टेस्ट, बंग्लादेश का सीरीज में 2-0 से सफाया

Indian team :

Indian team भारत को दिलाया विदेशी जमीन पर 2-0 से क्लीन स्वीप का गौरव 

Indian team मीरपुर। रविचंद्रन अश्विन (42 नाबाद) और श्रेयस अय्यर (29 नाबाद) के बीच आठवें विकेट के लिये 71 रन की मैच जिताऊ साझीदारी की बदौलत भारत ने दूसरे और अंतिम टेस्ट के चाैथे दिन रविवार को बंग्लादेश को तीन विकेट से हरा कर दो मैचों की श्रृखंला को 2-0 से अपने नाम कर लिया।

Indian team शेर ए बंग्ला नेशनल स्टेडियम पर 145 रनो के मामूली विजय लक्ष्य का पीछा कर रहा भारत एक समय में मात्र 74 रन पर सात विकेट गंवा कर संघर्ष की स्थिति में आ गया था मगर अश्विन और अय्यर की जोड़ी ने मेजबान के जबड़े से जीत को छीन कर भारत को विदेशी जमीन पर 2-0 से क्लीन स्वीप का गौरव दिलाया।

Indian team बंग्लादेश ने अपनी पहली पारी में 227 रन बनाये थे जिसके बाद भारत ने अपनी पहली पारी में 314 रन बना कर 87 रन की लीड हासिल की। मेजबान टीम ने दूसरी पारी में 231 रन बनाये और भारत को जीत के लिये 145 रन का लक्ष्य दिया जिसे भारत ने 47 ओवर में सात विकेट खोकर हासिल कर लिया।

भारतीय टीम के लिये के एल राहुल और विराट कोहली का खराब फार्म चिंता का विषय बना हुआ है वहीं मेजबान टीम की औसत गेंदबाजी आक्रमण के समक्ष भारत के शीर्ष बल्लेबाजों का दयनीय प्रदर्शन भी चयनकर्ताओं को सोचने पर मजबूर कर सकता है क्योंकि भारत को अगले कुछ दिनो में आस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू सीरीज खेलनी है।

Indian team  आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में आस्ट्रेलिया 120 अंकों के साथ शीर्ष स्थान पर काबिज है जबकि भारत ने 14 मैचों में आठ टेस्ट जीते है जबकि चार में उसे हार का सामना करना पड़ा है। अंकतालिका में वह आस्ट्रेलिया के बाद 99 अंको के साथ दूसरे स्थान पर है।

अश्विन एक बार फिर अपनी टीम के लिये उपयोगी साबित हुये। एक समय जब टीम निश्चित हार की तरफ बढ़ चुकी थी,उनकी जुझारू पारी भारत के लिये संजीवनी बनी। बल्लेबाजी के अलावा उन्होने बंग्लादेश की दोनो पारियों में चार विकेट भी चटका कर मेजबानो को सस्ते में समेटने में अपना योगदान दिया। उधर,बंग्लादेश के मेहदी हसन मिराज के धारदार आक्रमण ने भारत को एक समय हार की दहलीज पर पहुंचा दिया था। उन्होने दुनिया के मजबूत बैंटिंग लाइनअप वाले भारत के पांच खिलाड़ियों को 63 रन पर पवेलियन लौटा दिया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *