aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल
(Chief Minister Bhupesh Baghel)

(Chief Minister Bhupesh Baghel) भोजन करने आदिवासी किसान के घर पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

(Chief Minister Bhupesh Baghel) हमें जिंदगी भर याद रहेगा यह गौरव का पल : नेताम

 

मुख्यमंत्री को खूब भाया नगरी दुबराज का चाँवल, उड़द बड़ा और आलू-मुनगा की सब्जी

भोजन के दौरान खेती-किसानी की चर्चा और परिवार का कुशलक्षेम पूछा

नेताम ने कहा यह मेरे परिवार के लिए सौभाग्य की बात

(Chief Minister Bhupesh Baghel) धमतरी ! प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज अपने भेट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान सिहावा विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बेलरगांव में आदिवासी वनपट्टाधारी किसान एवं श्रमिक शिवप्रसाद नेताम के घर भोजन करने पहुंचे तो, उस समय किसान की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। घर में भोजन ग्रहण करने पहुंचे मुख्यमंत्री बघेल को देखकर नेताम और उसके परिवारजन खुशी से गदगद हो गए।

(Chief Minister Bhupesh Baghel) 60 वर्षीय आदिवासी किसान श्रमिक नेताम ने घर पहुंचने पर पूरी आत्मीयता के साथ पीली चाँवल से तिलक लगाकर मुख्यमंत्री का स्वागत किया। मुख्यमंत्री को यहां घर पर बने पारंपरिक छत्तीसगढ़िया भोजन परोसा गया। परोसे गए भोजन में नगरी का प्रसिद्ध दुबराज चाँवल के साथ उड़द बड़ा, रोटी, अरहर दाल, मुनगा- आलू बड़ी, खट्टा में मूली भाटा, लाल भाजी, चना भाजी, भथुवा भाजी, टमाटर चटनी, आचार व पापड़ का स्वाद लिया ।

मुख्यमंत्री ने दुबराज चाँवल की खेती सहित अन्य फसल के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने परिवार वालों से बातचीत की और उनका हाल चाल भी पूछा। श्री नेताम ने बताया कि उनके परिवार में कुल 9 सदस्य है। उन्हें वनअधिकार पत्र के तहत 1 एकड़ जमीन मिली जिसमे वे खेती करते हैं।इसके अलावा वे मजदूरी करके जीवन चलाते हैं।

मुख्यमंत्री ने स्वादिष्ट और छतीसगढिया भोजन के लिए नेताम एवं उनके परिवार को धन्यवाद दिया। साथ ही उपहार भी भेट किये। उन्होंने परिवार वालों के साथ एक ग्रुप फोटो भी ली ।

(Chief Minister Bhupesh Baghel) मुख्यमंत्री के साथ प्रदेश की महिला एवं बाल विकास तथा जिले की प्रभारी मंत्री अनिला भेड़िया, विधायक डॉ.लक्ष्मी ध्रुव, शिव प्रसाद नेताम और कलेक्टर प्रियंका महोबिया ने भी भोजन ग्रहण किया।

इस अवसर पर नेताम ने कहा कि प्रदेश के मुखिया का हमारे घर आकर सादगी और आत्मीयता के साथ भोजन करना गौरव का पल है। यह पल हमें जिंदगी भर याद रहेगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *