aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल
Rajasthan News : खेलते समय तालाब में डूबी 3 मासूम बेटियां...मौत

Rajasthan News : खेलते समय तालाब में डूबी 3 मासूम बेटियां…मौत

Rajasthan News : खेलते समय तालाब में डूबी 3 मासूम बेटियां…मौत

 

Rajasthan News : टोंक। राजस्थान के टोंक जिले से दिल दहला देने वाली खबर आई है। टोंक जिले के देवली इलाके में तीन मासूम बच्चियों की तालाब में डूबने से मौत हो गई. बेटी की मौत की खबर गांव में जंगल में आग की तरह फैल गई। खबर फैलते ही गांव में कोहराम मच गया।

Voter’s Day Special : जागरूक मतदाता देश के लोकतंत्र के रक्षक–दादु जायसवाल

Rajasthan News : हादसे का शिकार हुई लड़कियों में दो सगी बहनें भी थीं। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और बच्चियों की तलाश के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया. देर रात तालाब से शव निकाले गए। आज उनके शरीर का पोस्टमार्टम किया गया।

देवली के पुलिस अधीक्षक जगदीश मीणा ने कहा कि दुर्घटना मंगलवार शाम क्षेत्र के कल्याणपुरा गांव में हुई। गांव के तालाब के किनारे तीन मासूम बच्चियां खेल रही थीं। इसी क्रम में वह तालाब में गिर गई। तीनों को तैरना नहीं आता था। इससे उसकी डूबने से मौत हो गई।

जब बच्चियां घर नहीं लौटीं तो परिजनों ने उनकी तलाश शुरू की। बाद में पता चला कि लड़कियां तालाब के किनारे खेल रही थीं। इस पर परिजन वहां पहुंचे और घटना के निशान देखे तो उन्हें किसी अनहोनी की आशंका हुई।

https://www.jandhara24.com/news/139418/is-jaya-kishori-going-to-get-married-with-bageshwar-maharaj/

ग्रामीणों की मदद से तीनों के शव बाहर निकाले गए।
इसकी सूचना तुरंत ग्रामीणों और पुलिस को दी गई। बाद में पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों की मदद से बचाव अभियान शुरू किया। अंधेरा और कड़ाके की ठंड के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन में काफी दिक्कतें आईं। अंतत: ग्रामीणों की मदद से तीनों के शव बरामद कर देवली अस्पताल की मोर्चरी में रखवाए गए। बच्ची की मौत की खबर से परिजनों में कोहराम मच गया।

रिया और नौ साल की किरण दोनों रियल लाइफ बहनें थीं।
मरने वालों में सात साल की रिया और नौ साल की किरण दोनों रियल लाइफ बहनें थीं। और उसी उम्र की तीसरी लड़की उसकी पड़ोसन थी। रिया और किरण दोनों नंदकिशोर मीना की बेटियां थीं। हादसे की तीसरी शिकार मुकेश धाकड़ की बेटी थी।

मृत बच्चियों के शवों का बुधवार सुबह पोस्टमार्टम कराया गया। ग्रामीण पीड़ित परिवारों को ढांढस बंधाने में लगे हैं। लेकिन मृतक बच्चियों के परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *