Raipur dial 112 डायल 112 टीम बन रही है लोगों के लिए संजीवनी, रास्ता भटकी मानसिक विक्षिप्त युवती को सकुशल पहुँचाया घर

Raipur dial 112

Ramesh Gupta

Raipur dial 112 डायल 112 टीम ने रास्ता भटकी मानसिक विक्षिप्त युवती को सकुशल घर पहुँचाया  

 

Raipur dial 112 रायपुर …डायल 112 के द्वारा छ0ग0 में अपराध नियंत्रण, जनकल्याण एवं आपातकालीन सेवा के द्वष्टिकोण से कार्य किया जा रहा है। इसी कड़ी में डायल 112 कमाण्ड सेंटर रायपुर में सूचना प्राप्त हुई थी  कि जिला रायपुर थाना आमानाका क्षेत्रांतर्गत टाटीबंध चैक के पास दो ट्रक की आपसी भिड़ंत में ट्रक क्र सीजी 04 जेडी 6493 चालक अनिल गिरी पिता शिव राज गिरी को गंभीर चोटें आयी है।
कमाण्ड सेन्टर रायपुर द्वारा डायल 112 टीम को अविलंब रवाना किया गया। मौके पर डायल 112 टीम पहुॅची जहाॅ चालक क्षतिग्रस्त ट्रक के केबिन में घायल अवस्था में फंसा हुआ था। ईआरव्ही टीम के द्वारा तत्काल क्रेन की व्यवस्था कर घायल चालक को केबिन से बाहर निकाला गया और घायल चालक को  डायल 112 वाहन से ईलाज हेतु एम्स अस्पताल रायपुर में भर्ती करवाया गया।
Raipur dial 112  इस प्रकार डायल 112 टीम में तैनात आरक्षक 2730 रूपेन्द्र साहू एवं चालक प्रहलाद कुमार द्वारा उक्त सड़क दुर्घटना के कारण केबिन में फंसे हुए एवं गंभीर रूप से घायल चालक को समय पर आपातकालीन सेवा प्रदान किया गया।
इसी कड़ी में डायल 112 कमाण्ड सेंटर रायपुर को सूचना प्राप्त हुई कि एक मानसिक रूप से अस्वस्थ युवती उम्र लगभग 20 साल जो अपने घर का रास्ता भटक गई है और जिला रायपुर थाना मंदिर हसौद क्षेत्रान्तर्गत एचपी पेट्रोल पम्प कुरूद के पास है। सूचना पर कमाण्ड सेन्टर रायपुर द्वारा तत्काल डायल 112 टीम को मौके पर रवाना किया गया।
Raipur dial 112   मौके पर पहुॅची डायल 112 टीम ने उक्त मानसिक रूप से अस्वस्थ युवती से पूछताछ किया गया जिसने अपना नाम पता बताया तत्पश्चात् ईआरव्ही टीम के द्वारा उक्त युवती के संबंध में तश्दीक कराया गया उक्त युवती के गुम शुदगी के संबंध में उसके परिजनों के द्वारा थाना पण्डरी में गुम इन्सान का रिपोर्ट दर्ज कराया गया था जिस पर उक्त युवती को उसके परिजनों को सम्पर्क कर डायल 112 टीम के द्वारा उसके परिजनों को सही सलामत हालत में सुपुर्द किया गया।  इस प्रकार डायल 112 टीम में तैनात आरक्षक 2139 हरिचन्द्र नायक एवं चालक जगेश्वर ने रास्ती भटकी मानसिक रूप से अस्वस्थ युवती को परिजनों से मिलाकर सराहनीय कार्य किया गया।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

MENU