You are currently viewing Painful death गौ वंशों की हुई दर्दनाक मौत से आक्रोशित विहिप
Painful death गौ वंशों की हुई दर्दनाक मौत से आक्रोशित विहिप

Painful death गौ वंशों की हुई दर्दनाक मौत से आक्रोशित विहिप

Painful death बजरंग दल ने की कार्यवाही की मांग

Painful death
Painful death गौ वंशों की हुई दर्दनाक मौत से आक्रोशित विहिप

Painful death राजनांदगांव। ग्राम पदुमतरा के धान उपार्जन केन्द्र (सोसायटी) के रिक्त भूमि में गौमाताओं और गौवंशों को बंदकर 50-60 की संख्या में इस बारिश के मौसम में खुले में बिना चारा-पानी और उचित देखभाल के रख दिया गया, जिसके कारण लगभग 18 से 20 गौ वंशों की तड़प-तड़पकर दर्दनाक मृत्यु हो गयी है।

https://jandhara24.com/news/114278/bjp-mission-2023-chhattisgarh-will-embark-on-a-new-pattern-regarding-election-preparations-bjp-know-bjp-initiative-campaign-launched/.

Painful death बजरंग दल द्वारा निरीक्षण में पाया गया कि कुत्ते और जंगली जानवर नोंच-नोंच कर वीभत्स तरीके से खा रहे हैं। अपने कृत्य को छुपाने सभी गौवंशों को बाड़े से खोल दिया गया। मृत गौ वंश को टैक्टर द्वारा घसीट कर अलग-अलग खेतों में फंेक दिया गया, जिस क्रूर कृत्य की शिकायत एवं जांच के लिए विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल जिला गौ रक्षा प्रमुख अंशुल कसार के तत्वाधान में यह ज्ञापन सौंप गया।

Painful death
Painful death गौ वंशों की हुई दर्दनाक मौत से आक्रोशित विहिप

Painful death  विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल विभाग मंत्री अरूण गुप्ता ने बताया कि पदुमतरा में हमारी पूजनीय गौ-माताओं के साथ ऐसा दृश्य हृदय विदारक है और गौ वंशों के साथ किया गया यह पाप अक्षम्य है और कानून के अंतर्गत दंडनीय है। जिसके आक्रोश में विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल ने शासन-प्रशासन से 18 गौ वंशों की भूख, प्यास और सुरक्षा के अभाव में हुई दर्दनाक मृत्यु के संबंध में जांच करवाकर दोषियों पर कानूनी कार्यवाही किये जाने को लेकर ज्ञापन दिया है।

Painful death  बजरंग दल के जिला गौ रक्षा प्रमुख अंशुल कसार ने बताया कि छत्तीसगढ़ शासन द्वारा गौ-वंश के संरक्षण और संवर्धन के लिये विभिन्न योजनाएं चलाए जाने का दावा करने के पश्चात भी गौ-वंशों की इतनी निर्मम और दर्दनाक मृत्यु शासन और प्रशासन की व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह लगाता है। आज छत्तीसगढ़ में गौ-हत्या, गौ-तस्कारी अपने चरम पर है, यहां न चिकित्सा व्यवस्था है गौठनों के नाम पर केवल बंदी गृह है। जहां गौवंशों को बिना किसी चारा, पानी के कैद कर दिया जाता है।

CG Raipur Big Breaking News : 31 अक्टूबर से पहले यह काम नहीं किया तो किसान समर्थन मूल्य पर नहीं बेच सकेंगे धान…पढ़िये पूरी खबर
इस अवसर पर विश्व हिंदू परिषद के विभाग मंत्री अरुण गुप्ता, जिला अध्यक्ष ओमप्रकाश अग्निहोत्री, कोषाध्यक्ष, लव कुमार मिश्रा, बजरंग दल विभाग संयोजक प्रशांत दुबे, जिला विद्यार्थी प्रमुख गगन साहू, जिला गौ-रक्षा प्रमुख अंशुल कसार, विहिप नगर मंत्री बाबा जी मेश्राम, बजरंग दल नगर गौ-रक्षा सह प्रमुख दिव्यांश साहू सहित हेमंत राजपुत, दिनेश विश्वकर्मा, शैलेश रामटेके (बंटी) उपस्थित सभी लोगों ने एक स्वर में गौ माता के साथ हुये अत्याचार और विभत्स दर्दनाक मृत्यु के दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की मांग की और कार्यवाही ना होने पर हिंदू समाज और गौ भक्तों के साथ संगठन उग्र आंदोलन की चेतावनी भी दी है।

Leave a Reply