aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल
(One Day Cricket)

(One Day Cricket) रोहित, गिल के शतकों ने भारत को मजबूत स्कोर तक पहुंचाया

(One Day Cricket) न्यूजीलैंड के सामने विशाल लक्ष्य

(One Day Cricket) इंदौर ! भारत ने कप्तान रोहित शर्मा (101) और शुभमन गिल (112) के नायाब शतकों के बाद हार्दिक पांड्या (54) के विस्फोटक अर्द्धशतक की बदौलत तीसरे और आखिरी एकदिवसीय मैच में मंगलवार को न्यूजीलैंड के सामने 386 रन का विशाल लक्ष्य रखा।

(One Day Cricket) रोहित ने एकदिवसीय क्रिकेट में 1101 दिनों का सूखा खत्म करते हुए 85 गेंदों पर नौ चौकों और छह छक्कों के साथ 101 रन बनाये। दो मैच पहले दोहरा शतक जड़ने वाले गिल ने अपनी अद्भुत लय बरकरार रखते हुए 78 गेंदों पर 112 रन की पारी खेली, जिसमें 13 चौके और पांच गगनचुंबी छक्के शामिल रहे। भारत को मध्य ओवरों में कई झटके लगने के बाद पांड्या ने पारी को संभाला और 38 गेंदों पर तीन चौकों एवं तीन छक्कों के साथ 54 रन जड़े।

न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाजी के लिये बुलाया। इंदौर के छोटे मैदान पर बड़ा स्कोर बनाने की जरूरत को ध्यान में रखते हुए रोहित-गिल की जोड़ी ने टीम को उपयुक्त शुरुआत दी। भारत की सलामी जोड़ी को लोकी फर्ग्यूसन के अलावा कोई कीवी गेंदबाज शान्त नहीं रख सका और दोनों ने पहले पावरप्ले में कुल 82 रन जोड़े।

(One Day Cricket) गिल ने पांव जमाने के बाद 12वें ओवर में चौका लगाकर 33 गेंदों में अपना अर्द्धशतक पूरा किया, जबकि रोहित ने 14वें ओवर में छक्का लगाकर 50 रन के आंकड़े को छुआ।

पहले पावरप्ले के बाद भी दोनों बल्लेबाजों ने पारी की रफ्तार नहीं रुकने दी और न्यूजीलैंड के खिलाफ एकदिवसीय क्रिकेट में भारत की सबसे बड़ी साझेदारी कर डाली।

(One Day Cricket)  रोहित और गिल ने पहले विकेट के लिये 26 ओवर में 212 रन जोड़े, हालांकि दोनों ही सैकड़ा जमाने के बाद पवेलियन लौट गये।

एक समय पर भारत 400 रन की ओर अग्रसर था लेकिन न्यूजीलैंड ने मध्य ओवरों में लगातार विकेट लेते हुए रनगति पर लगाम कसी।

ईशान किशन सिर्फ 17 रन पर रनआउट होकर पवेलियन लौट गये, जबकि विराट कोहली (36) कवर्स पर खड़े फिन एलेन को कैच थमा बैठे।

(One Day Cricket)  सूर्यकुमार यादव और वाशिंगटन सुंदर का विकेट गिरने से भारतीय पारी की रफ्तार थम गयी लेकिन पांड्या ने विकेट पर समय बिताकर भारत को संभाल लिया।

शार्दुल ठाकुर ने पांड्या का साथ देते हुए 17 गेंदों पर 25 रन (तीन चौके, एक छक्का) बनाये और दोनों के बीच सातवें विकेट के लिये 54 रन की साझेदारी हुई। पांड्या भले ही 49वें ओवर में आउट हो गये, लेकिन भारत ने अंतिम पांच ओवरों में 60 रन जोड़ते हुए 385 रन का स्कोर खड़ा कर दिया।

ब्लेयर टिकनर ने 10 ओवर में 76 रन देकर तीन विकेट लिये। जेकब डफी ने भी तीन विकेट हासिल किये, हालांकि उन्होंने अपने 10 ओवर में 100 रन लुटाये। माइकल ब्रेसवेल ने छह ओवर में 51 रन देकर एक सफलता हासिल की। फर्ग्यूसन 10 ओवर में 53 रन देकर सबसे किफायती कीवी गेंदबाज साबित हुए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *