breaking news New

डीओ होल्डर के लिए कोयला का स्टॉक नहीं

डीओ होल्डर के लिए कोयला का स्टॉक नहीं

कोरबा। व्यवसायिक उपयोग के लिए डीओ होल्डर को साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के द्वारा दिया जाने वाला रोड सेल का कोयला अब समस्या बना हुआ है। सूत्रों के अनुसार कोरबा जिले के गेवरा दीपका क्षेत्र में दिए डीओ होल्डर के लिए कोयला का स्टॉक नहीं बचा है। इस स्थिति में कोयला के नाम पर उन्हें राख और अनुपयोगी सामान दिया जा रहा है । इसके कारण कोयला लेने वाली पार्टियां भुगतान में कटौती कर रही हैं। जबकि एसईसीएल प्रबंधन का दावा है कि समय पर कोयला का उठाव नहीं करने के कारण डीओ लेप्स हो रहे हैं।

कोल इंडिया की सभी कंपनियों में सामान्य और व्यवसायिक उपयोग के लिए रोड सेल व्यवस्था से कोयला देने का प्रावधान किया गया है। लाभकारी कंपनी साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड में भी इस व्यवस्था को लागू करने के साथ संबंधित पार्टियों को उनके डीओ के आधार पर कोयला आवंटित किया जा रहा है। जानकारी के अनुसार कोरबा जिले में एसईसीएल के गेवरा और दीपका क्षेत्र में स्थित खदानों में रोड सेल की व्यवस्था से अनेक डीओ होल्डर को पिछले कुछ दिनों से कोयला नहीं दिया जा रहा है और ऐसी स्थिति में उन्हें स्तरहीन कोयला या कोयला के नाम पर राख व अन्य सामान दिया जा रहा है। इस तरह के दावे भी किए जा रहे हैं कि एसईसीएल की इन खदानों में रोड सेल के मामले में स्टॉक ही नहीं है। इसलिए किसी भी तरह खानापूर्ति करने के साथ काम चलाया जा रहा है। जानकारों का कहना है कि रोड सेल से प्राप्त होने वाले कोयला को जब संबंधित पार्टियों के पास भिजवाया जाता है तो वह गुणवत्ता के आधार पर इसे रिजेक्ट कर देते हैं या फिर राख की मात्रा बता कर भुगतान में से काफी कटौती कर देते हैं। इस स्थिति में कोरबा जिले से कोयला भेजने वाली पार्टियों को काफी नुकसान झेलना पड़ रहा है।

अनेक डीओ होल्डर की मांग है कि साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड को डीओ की तारीख बढ़ाई जाने के लिए कार्रवाई करना चाहिए। तर्क दिया जा रहा है कि जब एसईसीएल के पास रोड सेल के मामले में कोयला का स्टॉक नहीं है तो स्थिति सामान्य होने तक के लिए पिछली तारीख में काटे गए डीओ को आगे बढ़ाना ही सबसे अच्छा विकल्प हो सकता है। कहां जा रहा है कि पिछले वर्ष कोविड.19 के कारण ऐसे मामलों में तारीख बढ़ाई गई थी । इसलिए अबकी बार भी इसी तरह का काम होना चाहिए और संबंधित लोगों को राहत दी जानी चाहिए।

बताया गया कि एसईसीएल गेवरा में रोड सेल का कोयला शून्य की स्थिति में है यानि रोड सेल का स्टॉक है ही नहीं। दूसरी ओर अधिकारी दावा कर रहे हैं कि रोड सेल का स्टॉक पर्याप्त है। अब तक किसी भी मामले में किसी पार्टी को कोयला के बजाय राखडय़ुक्त कोयला नहीं दिया गया और न ही इस बारे में कोई शिकायतें मिली। विषय से संबंधित जानकारी अधिकृत रूप से मिडिया को इसलिए नहीं दी जा सकती क्योंकि प्रबंधन ऐसे मामलों में चार्जशीट थमा देता है। साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के दीपिका क्षेत्र के अंतर्गत रोड सेल में कोयला के स्टाफ को लेकर किसी तरह की कोई समस्या नहीं है । यहां वर्तमान में 4 लाख टन कोयला का स्टॉक मौजूद है प्रतिदिन 30 से 35000 टन कोयला की आपूर्ति की जा रही है । कुछ लोग कोयला का उठाव नहीं कर रहे हैंए इसमें प्रबंधन कुछ नहीं कर सकता।