breaking news New

छत्तीसगढ़ी भाषा की बहुमुल्य संस्कृति का धरोहर है नाचा गम्मत : डीपेंद्र साहू

 छत्तीसगढ़ी भाषा की बहुमुल्य संस्कृति का धरोहर है नाचा गम्मत : डीपेंद्र साहू


धरोहर को सहेजने और आने वाली पीढ़ी तक पहुंचाने का माध्यम बना युवा वर्ग : चिरौंजी

धमतरी। ग्राम धौराभाठा में आयोजित नाचा गम्मत कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ प्रदेश साहू संघ के संयुक्त सचिव डीपेंद्र साहू, अंचल के वरिष्ठ मार्गदर्शक चिरौंजी लाल साहू, आमदी मंडल उपाध्यक्ष राकेश साहू, युवा मोर्चा प्रचार प्रसार प्रभारी कोमल सार्वा पहुंच कर सर्वप्रथम माता भगवती की पूजा अर्चना की। नाचा गम्मत कार्यक्रम में आये हुए जनप्रतिनिधियों के द्वारा बालोद जिला की प्रसिद्ध गोपी किशन नाचा पार्टी का आनंद उठाएं। आए हुए अतिथियों का समिति के द्वारा बेच एवं तिलक लगाकर स्वागत किए। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डीपेंद्र साहू ने कहा कि छत्तीसगढ़ी भाषा में अपनी बहुमूल्य संस्कृति को समेटे हुए हमारी धरोहर है नाचा गम्मत, जिसमें हमारे क्षेत्र के प्रसिद्ध कलाकारों के द्वारा अपनी हास्य अदाकारी, उनके भावपक्ष, नाचा पार्टी का उद्देश्य हमारे मानव समाज में निहित विभिन्न बुराइयों के प्रति लडऩे के लिए, आगे आने के लिए प्रोत्साहित करती है। यह सिर्फ मनोरंजन का साधन ना होकर हमारी संस्कृति के साथ साथ समाज में विभिन्न बुराइयों के ऊपर कटाक्ष करने का माध्यम है। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि चिरौंजी लाल साहू ने कहा कि नाचा गम्मत धरोहर को सहेजने के लिए, हमारी आने वाली पीढ़ी तक पहुंचाने के लिए हमारे युवा वर्ग आज परस्पर सामने आकर ऐसे सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन करा रहे हैं, जो निश्चित ही हमारे आने वाले भविष्य के लिए बहुत अच्छा साबित होगा। कार्यक्रम को युवा मोर्चा प्रचार प्रचार प्रभारी कोमल सार्वा, आमदी मंडल के उपाध्यक्ष राकेश साहू ने भी सभा को संबोधित कर नवरात्र पर्व की बधाई देते हुए नाचा गम्मत कार्यक्रम के उद्देश्य को अपने जीवन में उतारने के लिए प्रेरित किए।  इस अवसर पर परमेश्वरी सिन्हा, संजय कुमार, लक्ष्मी नारायण, यशवंत कुमार रामलाल ध्रुव किशन कुमार, क्षेत्र के वरिष्ठ जन ग्रामीण उपस्थित रहे।