breaking news New

महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस को भेजा नोटिस, आयोग ने कहा-शर्म की बात: जानिए क्या है मामला

महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस को भेजा नोटिस, आयोग ने कहा-शर्म की बात: जानिए क्या है मामला

नई दिल्ली। देश में लगातार बलात्कार की घटना बढ़ते ही जा रही है। उम्रदराज महिलाओं से लेकर छोटी बच्चियां भी इसकी शिकार हो रही है। इस मामले में दिल्ली महिला आयोग ने नाराजगी जाहिर करते हुए दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा, “मैं इस घटना से बहुत दुखी हूं।

यह बहुत ही चिंता और शर्म की बात है कि छोटी बच्चियों के साथ बलात्कार के मामले बार बार हमारे सामने आ रहे हैं। यह इस व्यवस्था की विफलता ही है जो छोटी बच्चियों के साथ दुष्कर्म के मामलों को रोकने में असमर्थ है। हमने इस मुद्दे को पहले भी कई बार उठाया है लेकिन ये मामले खत्म होते नहीं दिख रहे हैं। केवल कड़े कदम उठाकर ही बच्चियों के साथ दुष्कर्म की घटनाओं पर रोक लगायी जा सकती है।

हमारी टीम लगातार पीड़िता और उसके परिवार के साथ मौजूद है और हम उनकी हर तरह से सहायता करने को तत्पर हैं। मैं इस मामले में दिल्ली पुलिस से तत्काल कार्रवाई की मांग करती हूं, आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए और उन्हें जल्द से जल्द फांसी की सजा दी जानी चाहिए।”

आयोग को सूचना मिली कि शुक्रवार को दिल्ली के रंजीत नगर इलाके में एक बालिका के साथ दुष्कर्म की घटना हुई है। सूचना के मुताबिक एक सात वर्षीय लड़की को एक व्यक्ति ने 10 रुपये का नोट देने का लालच दिया और उसके बाद उसके साथ दुष्कर्म किया। लड़की के पिता उसे पास के अस्पताल ले गए लेकिन वहां उसका खून बहना बंद नहीं हुआ। उसके बाद उसे दूसरे अस्पताल में रेफर कर दिया गया, जहां फिलहाल बच्ची को गंभीर हालत में भर्ती कराया गया है। आयोग की एक टीम अस्पताल में पीड़ित बच्ची के साथ लगातार मौजूद है।

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने मामले का संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया। आयोग ने पुलिस से मामले में तत्काल कार्रवाई करने को कहा है। आयोग ने मामले में दर्ज प्राथमिकी का ब्योरा मांगा है। साथ ही आयोग ने दिल्ली पुलिस से अभियुक्तों की गिरफ्तारी की जानकारी मांगी है। आयोग ने पूछा है कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दिल्ली पुलिस क्या कदम उठा रही है। दिल्ली महिला आयोग ने मामले में दिल्ली पुलिस से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है।