breaking news New

धान बेचने से वंचित हजारों किसानों ने दी उग्र आंदोलन की चेतावनी

धान बेचने से वंचित हजारों किसानों ने दी उग्र आंदोलन की चेतावनी

क्षेत्र के हजारों किसान धान बेचने से वंचित, समय सीमा नहीं बढ़ाए जाने पर 

बेमेतरा . बेमौसम बारिश ने क्षेत्र के किसानों की परेशानी बढ़ा दी है ।  एक ओर जहां फसलों को नुकसान पहुंचा है, वही सरकारी केंद्रों में धान की खरीदी प्रभावित हुई है । केंद्रों में शनिवार से धान की खरीदी बंद है । इसलिए किसान नेता योगेश तिवारी ने धान खरीदी की समय सीमा 15 दिन बढ़ाए जाने की मांग की है ।  उन्होंने कहा कि अभी तक क्षेत्र के हजारों किसान धान नहीं  बेच पाए हैं । सप्ताह भर से खरीदी बंद है । वही जनवरी माह में सिर्फ 9 दिन खरीदी होनी है ।  ऐसी स्थिति में सभी किसानों से समय सीमा में धान की खरीदी करना संभव नहीं है । उन्होंने बताया कि क्षेत्र के किसानों से लगातार संपर्क में है, जो धान खरीदी की समय सीमा बढ़ाने की मांग कर रहे हैं । किसान नेता ने कहा कि इस संबंध में बेमेतरा कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा जाएगा ।

समय सीमा बढ़ाए जाने कि राज्य सरकार जल्द करें घोषणा

धान खरीदी की समय सीमा नहीं बढ़ाए जाने की स्थिति में क्षेत्र के किसानों के साथ आंदोलन के लिए बाध्य होंगे । राज्य सरकार के द्वारा जल्द ही समय सीमा बढ़ाए जाने की घोषणा की जानी चाहिए ताकि किसानों में असमंजस की स्थिति ना हो और वह धान की खरीदी को लेकर निश्चिन्त रहे । 

9 दिनों में करीब दो लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी संभव नहीं

गौरतलब हो कि सरकारी केंद्रों में 1 दिसंबर से 31 जनवरी तक कुल 42 दिन धान की खरीदी होनी थी लेकिन बेमौसम बारिश से खरीदी प्रभावित हुई और अभी तक सिर्फ 25 दिन ही खरीदी हो पाई है । अभी भी किसानों से 1 लक 80 हजार मीट्रिक टन धान की खरीदी शेष है, जो 9 दिनों में खरीदी किया जाना संभव नहीं है । इसलिए धान खरीदी की समय सीमा बढ़ाए जाने की मांग की जा रही है ।