breaking news New

बॉलीवुड के मशहूर कॉमेडियन कादर खान का जन्मदिन, जानिए-उनसे जुडी 10 बड़ी बातें

बॉलीवुड के मशहूर कॉमेडियन कादर खान का जन्मदिन, जानिए-उनसे जुडी 10 बड़ी बातें

मुंबई। बॉलीवुड के मशहूर डायलॉगबाज कादर खान का जन्मदिन है। उनका जन्म 22 अक्टूबर 1935 को अफगानिस्तान के काबुल में हुआ था। कादर खान ने बॉलीवुड में 300 से ज्यादा फिल्में में अभिनय किया जिसमें से 250 से भी ज्यादा फिल्मों में कॉमेडियन के रूप में काम किया, और उन्हें उनके बेस्ट प्रदर्शन के लिए बहुत सारे अवार्ड भी मिले। कादर खान की पहली फिल्म ‘सगीना’ 1974 में रिलीज हुई थी।

कादर खान  विशेष रुप से पास्थून के काकर जनजाति से संबंधित थे। वे अब्दुल रहमान और इकबाल बेगम के 4 बेटो में से एक थे। उनके तीन अन्य भाई शामसउर रहमान, फजर रहमान और हबीब उर रहमान थे। जब वह 1 साल के थे तभी वे अपने परिवार के साथ मुंबई आ गए थे। और उनका बचपन कठोर संघर्ष में झुग्गी-झोपड़ियों में बीता।

कादर खान की शिक्षा –

कादर खान ने मुंबई के म्यूनिसिपल स्कूल से अपनी प्रारंभिक पढ़ाई की। वे पढ़ने में बचपन से ही काफी होश्यिार थे। इसी वजह से उन्हें आगे चलकर इस्माइल युसूफ कॉलेज से अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है।

इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रोफेसर थे

कादर खान पढ़ाई में अच्छे थे और उन्होंने इंजीनियरिंग कॉलेज में दाखिला ले लिया। वो पढ़ाई के साथ- साथ नाटक भी लिखते थे। पढ़ाई पूरी होने के बाद सिद्दिकी कॉलेज में प्रोफेसर बन गए। लेकिन उन्होंने नाटक लिखना कभी नहीं छोड़ा और यही वजह थी कि वो काम करने के बाद रंग मंच से जुड़े रहे।

कादर खान का फिल्मी करियर – 

कादर खान ने 1973 में ‘दाग’ फिल्म से अपने अभिनय करियर की शुरुआत की। इसमें राजेश खन्ना मुख्य भूमिका में थे। इससे पहले वह रणधीर कपूर और जया बच्चन की फिल्म ‘जवानी-दिवानी’ के लिए संवाद लिख चुके थे। इसके बाद 1981 में कादर खान ने नसीब फिल्म में भी काम किया था, जिसमें उन्होंने अमिताभ बच्चन, हेमा मालिनी, ऋषि कपूर और शत्रुघन सिन्हा भी थे। इसके बाद उन्हें एक के बाद एक फिल्में मिलती गई और दर्शकों के दिल में उनके लिए एक अलग जगह बन गई।

आपको बता दें कि एक पटकथा लेखक के तौर पर खान ने मनमोहन देसाई और प्रकाश मेहरा के साथ कई फिल्में लिखी। कादर खान ने मनमोहन देसाई के साथ मिलकर ‘धर्म वीर’, ‘गंगा जमुना सरस्वती’, ‘कुली’ ‘देश प्रेमी’, ‘सुहाग’, ‘अमर अकबर एंथनी’ और मेहरा के साथ ‘ज्वालामुखी’, ‘शराबी’, ‘लावारिस’ और ‘मुकद्दर का सिकंदर’ जैसी फिल्में लिखी।

कादर खान की मशहूर फिल्में – 

किल दिल, इन योर आर्म्स, मिस्टर मनी, डोंट वरी, उमर कोई मेरे दिल में हैं, लकी: नो टाइम फॉर लव, सुनो ससुर जी, बस्ती, डाइल 100, धड़कन, कुंवारा, बिल्ला नंबर 786, अनाड़ी नंबर 1, आंटी नंबर 1, जुदाई, सपूत, याराना, वीर, दीडॉन, आग, साजन का घर, खुद्दार, दिल हैं बेताब, अंगार, बोल राधा बोल, दो मतवाले, नसीब, अदालत, बैराग, दाग

कादर खान निधन –

मशहूर अभिनेता कादर खान का 31 दिसम्बर, 2018 को  निधन हो गया। लंबी बीमारी के बाद 81 साल की उम्र में उन्होंने कनाडा के एक अस्पताल में अपनी आखिरी सांस ली। आपको बता दें कि कादर खान प्रोग्रेसिव सुप्रान्यूक्लीयर पाल्सी डिसऑर्डर के शिकार हो गए थे, जिसकी वजह से उनके दिमाग ने काम करना बंद कर दिया था इसलिए वे काफी दिनों तक अस्पताल में भर्ती रहे लेकिन काफी इलाज के बाद भी वे बच नहीं सके। वहीं उनका निधन बॉलीवुड के लिए एक बड़ा नुकसान है।

कादर खान, बॉलीवुड में अपनी बेहतरीन अदाकारी और शानदार डायलॉग से लोहा मनवा चुके हैं, वहीं वे हमारे दिल में हमेशा जिंदा रहेंगे। ज्ञानी पंडित की पूरी टीम उन्हें भावपूर्ण श्रद्दांजली अर्पण करती है और उनकी आत्मा की शांति के लिए दुआ करती है।




 .