breaking news New

दुनिया का एकमात्र तैरती लोकटक झील बनेगा विश्व स्तरीय पर्यटन स्थल

दुनिया का एकमात्र तैरती लोकटक झील बनेगा विश्व स्तरीय पर्यटन स्थल

 नयी दिल्ली। दुनिया का एकमात्र तैरती लोकटक झील का अनोखा नजारा देखते बनता है।   केंद्रीय पत्तन, पोत परिवहन मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा है कि मणिपुर की लोकटक झील बहुत खूबसूरत है और इसकी सुंदरता दुनिया देखे इसके लिए इसे विश्व स्तरीय पर्यटन स्थल बनाया जायेगा।

लोकटक झील, भारत में ताजे पानी की सबसे बड़ी झील है। यह झील मणिपुर की राजधानी इम्फाल से 53 किलोमीटर दूर और दीमापुर रेलवे स्टेशन के निकट स्थित है। 34.4 डिग्री सेल्सियस का तापमान, 49 से 81 प्रतिशत तक की नमी, 1,183 मिलीमीटर का वार्षिक वर्षा औसत तथा पबोट, तोया और चिंगजाओ पहाड़ मिलकर इसका फैलाव तय करते हैं। इस पर तैरते विशाल हरित घेरों की वजह से इसे तैरती हुई झील कहा जाता है। 

झील में देश के अंतर्देशीय जलमार्ग जेट्टी का निरीक्षण करते हुए  सोनोवाल ने झील की सुंदरता और पर्यटन तथा संबद्ध गतिविधियों के मामले में इसकी अपार संभावनाओं के बारे में चर्चा की।

उन्होंने कहा कि लोकटक एशिया के सबसे बड़े जल निकायों में से एक है और हरियाली, समुद्री जीवन तथा नीले पहाड़ों से घिरी यह झील बेमिसाल है।

सोनोवाल ने अंतर्देशीय जलमार्ग विकास और आयुष के क्षेत्रों में मणिपुर सरकार को पूर्ण समर्थन देने का भरोसा देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कनेक्टिविटी, बुनियादी ढांचा, युवाओं और किसानों के विकास पर जोर देते हुए पूर्वोत्तर क्षेत्र पर पूरा ध्यान दे रहे हैं।