breaking news New

डायल 112 की टीम ने दिखाया हौसला, read full news

डायल 112 की टीम ने दिखाया हौसला, read full news

600 मीटर दूर वाहन छोड़ खाट से गर्भवती को पहुंचाया अस्पताल

कोरबा। हसदेव अरण्य क्षेत्र में स्थित ग्राम पंचायत पतुरियाडांड सुदूर वनांचल क्षेत्र में है, जो चारों ओर से जंगल, पहाड़ और नदी-नालों से घिरा हुआ है। गांव तक सड़क भी नहीं बनी है। इससे गांव में रहने वालों को परेशानी होती है। ऐसा ही कुछ बुधवार सुबह गांव के हसल राम मंझवार की गर्भवती पत्नी सुमित्रा बाई 20 के साथ हुआ, जिसे प्रसव के लिए दर्द उठा। परिजन ने मितानिन के जरिए डायल 112 को सूचना दी। बांगो से 112 की टीम रवाना हुई। गांव तक 112 की ईआरवी पहुंचना आसान नहीं था।

ऐसे में 112 वाहन का चालक नीरज पांडे और आरक्षक महेंद्र कुमार चंद्रा गांव से 6 सौ मीटर दूर वाहन रोककर हसल राम के घर तक पहुंचे, जहां गर्भवती के परिजन के साथ मिलकर उसे खाट में ही उठाकर ले गए। दुर्गम रास्ता पार कर वे सही सलामत वाहन तक पहुंचे, फिर उसे स्वास्थ्य केंद्र मोरगा लेकर गए, जहां डॉक्टर ने कमजोरी व हिमोग्लोबिन की कमी देख हायर सेंटर ले जाने को कहा। परिजन वहां से उसे लेकर 60 किमी दूर लेकर कटघोरा अस्पताल पहुंचे, जहां सुमित्रा बाई को भर्ती कर इलाज किया जा रहा है।