National Institute of Ayurveda Homeopathy : देश को मिलेंगे यूनानी, आयुर्वेद और होम्योपैथी के तीन राष्ट्रीय संस्थान, मोदी करेंगे उद्घाटन

National Institute of Ayurveda Homeopathy : देश को मिलेंगे यूनानी, आयुर्वेद और होम्योपैथी के तीन राष्ट्रीय संस्थान, मोदी करेंगे उद्घाटन

National Institute of Ayurveda Homeopathy : देश को मिलेंगे यूनानी, आयुर्वेद और होम्योपैथी के तीन राष्ट्रीय संस्थान, मोदी करेंगे उद्घाटन

National Institute of Ayurveda Homeopathy :देश को पहली बार एक साथ तीन चिकित्सा संस्थान मिलने जा रहे हैं। इन संस्थानों में आयुर्वेद से लेकर यूनानी और होम्योपैथी मेडिसिन तक हैं जहां मरीजों को पढ़ाई के साथ-साथ इलाज भी मिलेगा।

coal production बिजली उत्पादन में बढ़ोतरी , 75.87 मिलियन टन तक पहुंच गया कोयला उत्पादन

National Institute of Ayurveda Homeopathy : उत्तर प्रदेश के गोवा, दिल्ली और गाजियाबाद में तैयार इन संस्थानों का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आठ से 11 दिसंबर तक गोवा में होने वाले 9वें विश्व आयुर्वेद सम्मेलन में करेंगे.

केंद्रीय आयुष मंत्रालय ने बताया कि गोवा में राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान, गाजियाबाद में राष्ट्रीय यूनानी संस्थान और दिल्ली में राष्ट्रीय होम्योपैथी संस्थान शुरू होंगे। इन सबके साथ ही एक अस्पताल भी होगा

जहां मरीज अपना इलाज करा सकेंगे। केंद्रीय आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा, पीएम नरेंद्र मोदी ने एक नया आयुष मंत्रालय बनाया है

National Institute of Ayurveda Homeopathy : देश को मिलेंगे यूनानी, आयुर्वेद और होम्योपैथी के तीन राष्ट्रीय संस्थान, मोदी करेंगे उद्घाटन

और बहुत कम समय में बजट को छह गुना बढ़ाकर कई महत्वपूर्ण फैसले लेकर पारंपरिक चिकित्सा को बढ़ावा दिया है. अब हमारी जिम्मेदारी भी बढ़ गई है और हम पारंपरिक चिकित्सा को लेकर दुनिया का मार्गदर्शन कर रहे हैं। ब्यूरो

राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान, गोवा : आयुर्वेदिक चिकित्सा में मरीजों की शिक्षा, शोध और निगरानी के लिए यहां स्नातक, स्नातकोत्तर और पीएचडी कार्यक्रम किए जा सकते हैं।

सरकार चिकित्सा स्वास्थ्य पर्यटन के लिहाज से भी इस संस्थान को पूरी दुनिया में बढ़ावा देगी। यहां रिसर्च के लिए अंतरराष्ट्रीय मानकों का ख्याल रखा गया है।

राष्ट्रीय यूनानी संस्थान, गाजियाबाद : आधुनिक चिकित्सा के सहयोग से यूनानी का विस्तार करने के लिए यहां स्नातक, स्नातकोत्तर और पीएचडी की शिक्षा दी जाएगी। ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए 120 सीटें निर्धारित की गई हैं।

राष्ट्रीय होम्योपैथी संस्थान, दिल्ली
आयुष चिकित्सा के नए शोध और नवाचार को दुनिया के सामने लाने के लिए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में होम्योपैथी संस्थान की स्थापना की गई है जहां 120 स्नातक और स्नातकोत्तर छात्रों को होम्योपैथी शिक्षा लेने का अवसर मिलेगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

MENU