aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल

(Muskan) अब मुस्कान के लिए आगे बढ़ा जिला चिकित्सालय, विशेष टीम ने किया निरीक्षण

(Muskan)

(Muskan) मुस्कान नामक प्रमाण पत्र के लिए भी प्रतिस्पर्धा

(Muskan) कबीरधाम। नेशनल मलिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड के बाद जिला अस्पताल अब श्मुस्कानश् नामक प्रमाण पत्र के लिए भी प्रतिस्पर्धा में शामिल हो गया है।

also read : Crimes : अपराधों का गढ़ बना छाल थाना क्षेत्र ,बखूबी चल रहे अवैध कारोबार

(Muskan) मुस्कान प्रमाण पत्र के लिए बेसलाइन असेसमेंट करने हेतु राज्य मलिटी एश्योरेंस सेल की तीन सदस्यीय टीम ने जिला अस्पताल का निरीक्षण कर सम्बन्धित विभागों का जायजा लिया है।

केंद्र शासन द्वारा नवीन मलिटी इनिशिएटिव मुस्कान नाम से शून्य से 12 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों (पीड़ियाट्रिक) के लिए चिकित्सा मानक बनाने हेतु कार्यक्रम शुरू किया गया है। इसका उद्देश्य शासकीय स्वास्थ्य संस्थाओं में बच्चों के लिए गुणवत्तावूर्ण स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करना व रोकथाम योग्य बीमारियों से होने वाली नवजात शिशुओं की मृत्युओं को कम करना है।

मुस्कान प्रमाण पत्र के संबंध में जांच के लिए आई टीम को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. सुजॉय मुखर्जी व उनकी टीम ने जिला अस्पताल का निरीक्षण कराया।

इस संबंध में सीएमएचओ डॉ. मुखर्जी ने बतायाः नेशनल मलिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड के बाद जिला अस्पताल अब मुस्कान प्रमाण पत्र के लिए भी प्रतिस्पर्धा में शामिल हो गया है जो गौरव की बात है। इससे निसंदेह अस्पताल की सुविधाओं तथा सेवाओं में और भी बेहतर बढ़ोतरी करने में सहायता मिलेगी।

(Muskan) जिला अस्पताल इस बार पीडियाट्रिक वार्ड, पीडियाट्रिक ओपीडी, एसएनसीयू और एनआरसी सहित चार विभागों के लिए मुस्कान प्रमाण पत्र के लिए प्रतिस्पर्धा में शामिल हुआ है। इनमें से तीन विभागों एसएनसीयू, पीडियाट्रिक वार्ड व एनआरसी को पूर्व में एनक्यूएएस की सेंट्रल टीम ने सम्मानजनक अंक दिए हैं।

(Muskan) उन्होंने आगे बतायाः राज्य क्वालिटी एश्योरेंस सेल की तीन सदस्यीय टीम में कविता चंद्राकर, ऋषिकेश रात्रे व अंकिता तिवारी शामिल थे, जिन्होंने जिला अस्पताल का निरीक्षण कर संबंधित विभागों का जायजा लिया है।

निरीक्षण में मापदंड के अनुरूप बहुत ही कम सामान्य कमियां मिली हैं, जिन्हें जल्द से जल्द दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। जिला चिकित्सालय के उपरोक्त सभी विभागों में केंद्रीय जांच टीम के आने की प्रत्याशा में सभी आवश्यक मापदंडों को पूर्ण करने की तैयारियां पूरे जोर-शोर से जारी है।

मुस्कान प्रमाणपत्र प्राप्त करने हेतु डॉ. सलिल मिश्रा शिशु रोग विशेषज्ञ को नोडल अधिकारी की जिम्मेदारी दी गई है।

इससे पहले 12 विभागों ने किया था कमाल

इससे पहले जिला अस्पताल को उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवाओं व मरीजों के बेहतर इलाज के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय गुणवत्ता आश्वासन मानक (एनक्यूए एस. नेशनल मलिटी एश्योरेंस स्टैंटर्ड) प्रमाण पत्र प्रदान किया गया है। भारत सरकार द्वारा जिला अस्पताल को यह प्रमाण पत्र 12 विभागों के बेहतर कार्य प्रदर्शन के लिए प्रदत्त किया गया है।

also read : https://jandhara24.com/news/107339/cbse-result-2022-class-12th-class-12th-result-can-be-seen-on-this-website-cbseresults-nic-in/

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *