aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल

(miracle text) भाजपा की सरकार के समय पाठ्यक्रम में शामिल किया गया चमत्कार पाठ खुद ही कर रहे विरोध

(miracle text)

(miracle text) चमत्कार पाठ भाजपा सरकार के समय पाठ्यक्रम में जुड़ा-कांग्रेस

भाजपा ने पाठ शामिल कराया खुद ही विरोध कर रहे

(miracle text) रायपुर। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा कि कक्षा 5 वीं की पुस्तक में शामिल पाठ चमत्कार के संबंध में भाजपा और संघ के द्वारा की जा रही आपत्ति भाजपा की अवसरवादिता है। यदि भाजपा और संघ को लगता है कि उक्त पुस्तक और उसमें उल्लेखित पाठ गलत है तो इसकी जिम्मेदारी भी भाजपा स्वीकार करें। भाजपा की सरकार के समय पाठ्यक्रम में शामिल किया गया था उस समय भाजपा के वरिष्ठ नेता बृजमोहन अग्रवाल शिक्षा मंत्री थे।

(miracle text)  प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा कि सत्र 2005 में ही पाठ्यपुस्तकों के अनुमोदन के लिये 10 सदस्यों की समिति गठित की गई (राज्य शिक्षा स्थायी समिति) समिति के अध्यक्ष थे, डॉ. सच्चिदानंद जोशी, कुलपति, कुशाभाऊ ठाकरे, पत्रकारिता विश्वविद्यालय रायपुर। उक्त समिति द्वारा ही पाठ्यपुस्तक का अनुमोदित किया गया है।

(miracle text)  प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा कि उक्त पाठ पर लगाए गए आरोप गलत है, क्योंकि इस पाठ में साधु की वेशभूषा में एक कपटी व्यक्ति की बात की गई है। कपटी व्यक्ति ने ही साधु की वेशभूषा धारण कर लोगों को ठगने का प्रयास कर रहा और इस प्रकार की घटनाएं घटित होती रहती है। इस पाठ के माध्यम से किसी भी धर्म, संप्रदाय, पूज्यनीय व्यक्ति को कपटी नहीं कहा गया है बल्कि ऐसे वेश धारण कर लोगों को ठगने के प्रयास करने वाले कपटी व्यक्तियों से बच्चों को सावधान किया गया है। इसलिए इसमें किसी भी साधु, सज्जन अथवा व्यक्ति के अपमान का प्रश्न नहीं है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा कि भाजपा स्वयं का सबसे बड़ी हिन्दूवादी पार्टी होने का दंभ भरती है और उसके द्वारा लगातार हिन्दू समाज की मान्यताओं पर प्रहार किया जाता है। 5वीं के पाठ्यक्रम के मामले में भी भाजपा की चाल बेनकाब हुई है। खुद की सरकार में पाठ को पाठ्यक्रम में शामिल करते है विपक्ष में आने के बाद उसको गलत तथ्य के रूप में प्रस्तुत कर राजनीति कर रहे।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा कि कांग्रेस सरकार के संज्ञान में बात आई है इसका परीक्षण कराया जायेगा। वास्तव में यदि इस पाठ को पाठ्यक्रम से हटाया जाना बच्चों के हित में होगा तो जरूर हटाया जायेगा लेकिन इसको शामिल करने तथा इस पर विवाद करने के लिये बृजमोहन अग्रवाल सहित संघ और भाजपा के नेता माफी मांगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *