breaking news New

साख बचाने उतरेंगे वेस्ट इंडीज और श्रीलंका

साख बचाने उतरेंगे वेस्ट इंडीज और श्रीलंका

अबू धाबी।  गत टी-20 विश्व कप विजेता वेस्ट इंडीज और एक बार का विजेता श्रीलंका यहां कल मौजूदा टी-20 विश्व कप 2021 के मुकाबले में अपनी साख बचाने उतरेंगे। दरअसल दोनों ही टीमें टूर्नामेंट से बाहर हैं और अपने बचे हुए मैचों में जीत दर्ज कर अच्छे तरीके से अभियान समाप्त करने की ओर देख रही हैं।

अबू धाबी के शेख जायद स्टेडियम में शाम 7.30 बजे खेले जाने वाले मैच में दाेनों टीमों के सामने खुद को साबित करने की चुनौती होगी। विशेष तौर पर सबकी निगाहें डिफेंडिंग चैंपियन वेस्ट इंडीज पर होंगी, जिसका अब तक यह सीजन अच्छा नहीं रहा है। वेस्टइंडीज ने अब तक खेले तीन लीग मैचों में से केवल एक में जीत हासिल की है और यह भी बेहद मशक्कत के बाद आई थी।

उसने बंगलादेश को तीन रन से हराया था, जबकि इससे पहले इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उसे बड़ी हार का सामना करना पड़ा था। शेष दो मैचों में भी उसके सामने कड़ी चुनौती होगी, क्योंकि उसकी दो अच्छी टीमों श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया से भिड़ंत होगी। जेसन होल्डर वेस्ट इंडीज के तुरुप का इक्का साबित हो सकते हैं। पिछले कुछ समय से वह बल्ले और गेंद के साथ बहुत अच्छे दिखे हैं।

वहीं श्रीलंका के लिए भी वेस्ट इंडीज को हराना आसान नहीं होगा। बेशक वानिंदु हसरंगा, भानुका राजपक्षे, चरित असलंका और कप्तान दासुन शनाका फॉर्म में हैं, लेकिन अंत में आकर बिखर जाना टीम की सबसे बड़ी कमजोरी रहा है। इसमें कोई शक नहीं है कि एशियाई टीम होने के चलते श्रीलंका वेस्ट इंडीज के मुकाबले अबू धाबी की पिच पर बेहतर प्रदर्शन कर सकती है। पर क्रिकेट के खेल में कुछ नहीं कहा जा सकता है।

दोनों टीमें आपस में अब तक 14 बार टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेली हैं, जिसमें दोनों ने ही सात-सात मुकाबले अपने नाम किए हैं। रही बात आईसीसी टी-20 विश्व कप की तो इसमें श्रीलंका का दबदबा रहा है।

विश्व कप में दोनों टीमों का सात बार आमना-सामना हुआ है, जिसमें श्रीलंका ने पांच बार जीत हासिल की है, जबकि वेस्टइंडीज ने महज दो मैच जीते हैं। श्रीलंका ने टी-20 विश्व कप के 2009 संस्करण में वेस्ट इंडीज को दो बार और 2010, 2012 और 2014 में एक-एक बार हराया था। वहीं 2012 और 2016 विश्व कप में वेस्ट इंडीज ने जीत का स्वाद चखा था।