breaking news New

इरफान पठान ने कहा -कोहली की गैरमौजूदगी में रोहित को मिले टेस्ट कप्तानी

 इरफान पठान ने कहा -कोहली की गैरमौजूदगी में रोहित को मिले टेस्ट कप्तानी

नई दिल्‍ली।  आईपीएल के बाद टीम इंडिया को ऑस्‍ट्रेलिया सीरीज के लिए जाना है.कोहली को पहले टेस्ट के बाद पितृत्व अवकाश प्रदान किया गया है और पठान ने कहा कि इससे टीम पर काफी असर पड़ेगा जिसने दो सत्र पहले उनकी अगुवाई में ऐतिहासिक सीरीज जीती थी. पठान ने कहा, ‘विराट कोहली के नहीं होने से टीम पर काफी प्रभाव पड़ेगा, लेकिन आपको उनके फैसले का सम्मान करना चाहिए.  इस टीम का ऐलान पहले ही कर दिया गया था, लेकिन अब बीसीसीआई की सिलेक्‍शन कमेटी ने इसमें बदलाव भी कर दिया है. 

रोहित शर्मा वन डे और T20 सीरीज का तो हिस्‍सा नहीं होंगे, लेकिन रोहित शर्मा की टेस्‍ट टीम में वापसी हो गई है. लेकिन कप्‍तान विराट कोहली पहले टेस्‍ट के बाद वापस भारत लौट आएंगे, वहीं टेस्‍ट टीम के उप कप्‍तान अजिंक्‍य रहाणे हैं, अब सवाल ये है कि विराट कोहली की गैर हाजिरी में क्‍या अजिंक्‍य रहाणे ही टीम की कप्‍तानी करेंगे या फिर रोहित शर्मा को कप्‍तानी दी जाएगी. अजिंक्य रहाणे आस्ट्रेलिया टेस्ट के लिए भारत की संशोधित टीम में उप कप्तान बरकरार हैं, लेकिन इरफान पठान को लगता है कि उनसे कहीं ज्यादा अनुभवी रोहित शर्मा को विराट कोहली की अनुपस्थिति में टीम की कप्‍तानी करनी चाहिए। 

 इरफान पठान की निजी राय है कि विराट कोहली की अनुपस्थिति में रोहित शर्मा को टीम की कप्तानी करनी चाहिए, हालांकि अजिंक्‍य रहाणे को फिलहाल उप कप्तान बनाया हुआ है. रोहित शर्मा ने मुंबई इंडियंस की अगुआई करते हुए टीम को चार बार आईपीएल का खिताब दिलवाया है और साथ ही निदहास ट्राफी और एशिया कप में भारत को दो बड़ी ट्राफियां दिलाई हैं. 

इरफान पठान ने कहा कि अजिंक्‍य रहाणे के खिलाफ कुछ नहीं है लेकिन रोहित शर्मा को कप्तानी करनी चाहिए. वह बेहतरीन कप्तान है और वह साबित कर चुका है और उसके पास जरूरी अनुभव भी है. पठान ने कहा कि सलामी बल्लेबाज के तौर पर उनकी भूमिका भी महत्वपूर्ण होगी. वह ऐसा खिलाड़ी है जिसे आप आस्ट्रेलिया में खिलाना चाहते हो. मुझे याद है 2008 में वनडे सीरीज में वह नया था लेकिन उसने आस्ट्रेलिया की पिचों पर काफी अच्छा प्रदर्शन किया था. चोट के बाद वह शानदार प्रदर्शन करने के लिए बेकरार होगा. इरफान पठान ने कहा कि विपक्षी टीम के लिए रन बनाने के लिए भूखे रोहित शर्मा से खतरनाक कुछ भी नहीं होगा. विदेशी सरजमीं पर खेलना हमेशा कठिन चुनौती होती है लेकिन जब रोहित फार्म में हो तो परिस्थितियां मायने नहीं रखतीं.