aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल

(Korea Accident) स्कूटी चकनाचूर, ट्रक चालक फरार, दो सड़क हादसों में 5  युवकों की दर्दनाक मौत 

(Korea Accident)

(Korea Accident) जिले के लिए दुखदाई साबित हुई शुक्रवार की रात्रि

(Korea Accident) बैकुंठपुर । शुक्रवार की रात्रि कोरिया जिले के लिए दुखदाई साबित हुई है। रात्रि को हुए अलग-अलग दो सड़क हादसों में 5 होनहार युवकों की मौत हो गई। वहीं एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया।

(Korea Accident) दोनों सड़क हादसे चरचा थाना क्षेत्र में हुए । दुर्घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची चरचा पुलिस ने घायल को इलाज के अस्पताल में भर्ती कराया है। वहीं शवों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। जिनका शनिवार को जिला अस्पताल चिकित्सकों द्वारा पोस्टमार्टम किया गया।

(Korea Accident) मिली जानकारी के अनुसार जिले के चरचा थाना इलाके में ये दोनों हादसा हुआ है। यहां के सरडी इलाके में ट्रेलर क्रमांक एमपी एच 65-4777 और स्कूटी में जोरदार भिड़ंत हो गई। इस दुर्घटना में स्कूटी सवार दीपक पाल निवासी हर्रापारा बैकुंठपुर, चंद्रसेन यादव बुढ़ार बैकुंठपुर व संजीव नायक रायगढ़ निवासी तीन लोगों की मौत हो गई। वहीं स्कूटी चकनाचूर हो गई। हादसे के बाद ट्रक चालक फरार है। पुलिस ने ट्रक को जप्त कर लिया टै।

वहीं दूसरे सड़क हादसे में फूलपुर में छोटा पिकअप क्रमांक सीजी 16 डीसी 6425 और बाइक क्रमांक सीजी 16 सीएल 0875 की टक्कर हो गई। इस हादसे में बाइक सवार अमित कुजूर व विशेष सिंह नामक दो युवकों की मौत हो गई। जो कि एलआईसी ऑफिस बैकुंठपुर में कार्यरत बताए जा रहे हैं। इस हादसे में पिकअप चालक भी घायल हो गया। जिसे उपचार हेतु अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फ़िलहाल चरचा पुलिस मर्ग कायम कर विवेचना में लगी हुई है।

(Korea Accident) हृदय विदारक घटनाओं में नौजवानों की मौत 

सड़क हादसे में मृत 5 युवकों के अलावा अन्य कारणों से मृत 3 अन्य लोगों के शव भी भी शनिवार को जिला अस्पताल पहुंचे। जिनका पोस्टमार्टम चिकित्सको द्वारा किया गया। हृदय विदारक घटनाओं में नौजवानों की मौत के पश्चात भाजपा जिला उपाध्यक्ष शैलेश शिवहरे शनिवार की सुबह जिला अस्पताल पहुंचे।

उनके द्वारा सुबह स्वयं खड़े होकर तत्काल पोस्टमार्टम कराने में सहयोग किया गया व अस्पताल से उनके निवास तक शव को पहुंचाने हेतु शव वाहनों की व्यवस्था की गई। एवं अंत्येष्टि हेतु लकड़ी की व्यवस्था कराई गई।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *