aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल

Korba Collector इच्छा मृत्यु किसी भी समस्या का समाधान नही

Korba Collector

Korba Collector कलेक्टर झा ने जनचौपाल में आये भू विस्थापित बंशी दास को दी समझाईश

Korba Collector
Korba Collector कोरबा इच्छा मृत्यु किसी भी समस्या का समाधान नही

Korba Collector कोरबा । कलेक्टर  संजीव झा ने जन चौपाल में इच्छा मृत्यु की मांग करने आये विजय नगर कोसमंदा निवासी श्री बंशी दास महंत को समझाईश दिया। कलेक्टर ने बंशी दास को समझाईश देते हुए कहा कि इच्छा मृत्यु किसी भी समस्या का समाधान नही है।

https://jandhara24.com/news/102083/international-yoga-day-many-celebrities-including-home-minister-sahu-mp-saroj-pandey-did-yoga-gave-these-messages/

Korba Collector मौके पर ही जीएम को फोन लगाकर उनके पुत्र को निजी एजेंसी में नौकरी दिलाने दिये निर्देश

समस्याओं के कारणों को जानकर उनका निराकरण करके ही समस्या को सुलझाया जाता है। कलेक्टर श्री झा ने बंशी दास की रोजगार और परिवार के पालन पोषण से संबंधित समस्याओं के निराकरण के लिए उनके पुत्र को एसईसीएल कुसमुण्डा कोयला खदान क्षेत्र में किसी निजी एजेंसी में नौकरी दिलाने के निर्देश एसईसीएल के अधिकारी को दिये।

Korba Collector कलेक्टर  झा ने जनचौपाल में आये प्रकरणों के त्वरित निराकरण के दिए निर्देश

Korba Collector
Korba Collector कोरबा इच्छा मृत्यु किसी भी समस्या का समाधान नही

कलेक्टर ने जन चौपाल में ही एसईसीएल कुसमुण्डा के महाप्रबंधक को फोन लगाकर तत्काल बंशी दास के पुत्र को एजेंसी के माध्यम से नियोजित करने के निर्देश दिये। दरअसल बंशी दास काफी लंबे समय से एसईसीएल द्वारा भूमि अधिग्रहण के पश्चात् नौकरी नही दिये जाने की समस्या को बताते हुए इच्छा मृत्यु की मांग करने कलेक्टर के समक्ष आवेदन प्रस्तुत किये थे।

 


उन्होने स्वयं के दिव्यांग होने के कारण परिवार के भरण पोषण में आ रही कठिनाईयों से अवगत कराया। कलेक्टर  झा ने बंशी दास को बड़ी ही शालीनता से समझाते हुए कहा कि उनके भूमि अधिग्रहण से संबंधित प्रकरण हाईकोर्ट में लंबित है।

Korba Collector जनचौपाल में आज 94 लोगों ने दिये आवेदन

Korba Collector
Korba Collector कोरबा इच्छा मृत्यु किसी भी समस्या का समाधान नही

प्रकरण के हाईकोर्ट से निराकरण पश्चात् नियमानुसार प्रबंधन द्वारा रोजगार एवं बसाहट के संबंध में कार्यवाही की जाएगी। तब तक प्रशासन द्वारा परिवार के भरण पोषण में सहयोग के लिए उनके पुत्र को निजी एजेंसी मंे नियोजित करने में सहयोग किया जा रहा है। कलेक्टोरेट सभा कक्ष में आयोजित जनचौपाल में कलेक्टर श्री झा ने लोगों की समस्याएं सुनी और उनके त्वरित निदान के लिए उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिए।

आज आयोजित जन चौपाल में 94 लोगों ने कलेक्टर को अपनी समस्याओं-सुझावों से अवगत कराया। जनचौपाल में डीएफओ कोरबाप्रियंका पाण्डेय, डीएफओ कटघोरा श्रीमती प्रेमलता यादव, अपर कलेक्टर श्री विजेन्द्र पाटले, जिला पंचायत के सी.ई.ओ. श्री नूतन कंवर, नगर निगम आयुक्त श्री प्रभाकर पाण्डेय सहित सभी विभागीय अधिकारीगण मौजूद रहे।

जनचौपाल में आज गरूड़ नगर गेवरा प्रोजेक्ट निवासी सुश्री दुर्गा रानी नायक ने सीपेट में रोजगारमुखी पाठ्यक्रम में प्रवेश दिलाने के लिए आवेदन प्रस्तुत किया। दुर्गा रानी सीपेट में डीपीटी कोर्स में प्रवेश लेना चाहती है। उन्होने कमजोर आर्थिक स्थिति का हवाला देते हुए सीपेट द्वारा निर्धारित शैक्षणिक शुल्क जमा करने में असमर्थता जताई। उन्होने उक्त कोर्स में प्रवेश दिलाने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने कलेक्टर के समक्ष निवेदन किया। कलेक्टर  झा ने आवेदिका की बातों को सुनकर लाईवलीहुड के सहायक परियोजना अधिकारी को दुर्गा रानी का एडमिशन सीपेट में करवाने के निर्देश दिये।

Digital Budget In Chhattisgarh : छत्तीसगढ़ में पहली बार डिजिटल बजट पेश करने की तैयारी

जन चौपाल में आज सरगबुंदिया के कुछ दुकानदारो ने फोरलेन सड़क निर्माण में दुकानों के प्रभावित होने की शिकायत करते हुए दुकान की क्षतिपूर्ति राशि तथा गांव में दूसरे जगह पर दुकान निर्माण करने अनुमति प्रदान करने के संबंध में आवेदन प्रस्तुत किये। कलेक्टर  झा ने दुकानदारो की आवेदन पर संज्ञान लेते हुए अपर कलेक्टर को इस संबंध में उपयुक्त कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

इसी प्रकार ग्राम सेमीपाली निवासी  फूलबाई ने भूमि मुआवजा राशि के बंटवारा में आ रही पारिवारिक समस्या को दूर मुआवजा राशि का तीन हिस्सों में बंटवारा करवाने आवेदन प्रस्तुत किया। उन्होने बताया कि रेल परियोजना के तहत अधिग्रहित भूमि की मुआवजा राशि लगभग 27 लाख रूपये प्राप्त हुए है।

फूलबाई के पति की मृत्यु हो चुकी है। वह मुआवजा राशि को स्वयं और अपने दोनो पुत्रो के बीच बराबर तीन हिस्सो में बांटना चहती है। आवेदन पत्र संज्ञान लेते हुए कलेक्टर श्री झा ने तहसीलदार को आवेदिका की मदद करते हुए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *