Karnataka : जीका वायरस का पहला मामला सामने आने से बढ़ा तनाव, 5 साल की बच्ची की रिपोर्ट पॉजिटिव, डॉक्टर अलर्ट पर

Karnataka : जीका वायरस का पहला मामला सामने आने से बढ़ा तनाव, 5 साल की बच्ची की रिपोर्ट पॉजिटिव, डॉक्टर अलर्ट पर

Karnataka : जीका वायरस का पहला मामला सामने आने से बढ़ा तनाव, 5 साल की बच्ची की रिपोर्ट पॉजिटिव, डॉक्टर अलर्ट पर

 Karnataka : जीका वायरस का पहला मामला कर्नाटक में सामने आया है। स्वास्थ्य मंत्री के. सुधाकर के मुताबिक, 5 साल की बच्ची की जीका वायरस की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

Chhattisgarh News : एक सरकारी कर्मचारी व एक पुलिस विभाग में तैनात सिपाही ने पत्रकारों दी गंदी गालियां

 Karnataka : उन्होंने बताया कि हम स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं. साथ ही स्वास्थ्य विभाग को अलर्ट मोड पर रहने को कहा है.

Karnataka : जीका वायरस का पहला मामला सामने आने से बढ़ा तनाव, 5 साल की बच्ची की रिपोर्ट पॉजिटिव, डॉक्टर अलर्ट पर
Karnataka : जीका वायरस का पहला मामला सामने आने से बढ़ा तनाव, 5 साल की बच्ची की रिपोर्ट पॉजिटिव, डॉक्टर अलर्ट पर

जीका वायरस का पहला मामला कर्नाटक के रायचूर में सामने आया है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने बताया कि रायचूर की एक 5 साल की बच्ची में जीका वायरस का संक्रमण पाया गया है.

उन्होंने बताया कि सरकार इस मामले में जरूरी कदम उठा रही है.

https://jandhara24.com/news/131949/population-of-india/

पुणे की लैब रिपोर्ट के मुताबिक कर्नाटक के रायचूर में 5 साल की बच्ची में जीका वायरस की पुष्टि हुई है. इसके साथ ही मरीज को एहतियात बरतने की सलाह दी गई है।

स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने कहा कि कर्नाटक में जीका वायरस का यह पहला मामला है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार इसे काफी गंभीरता से ले रही है. उन्होंने कहा कि उन्होंने राज्य में स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति पर भी नजर रखी है.

डॉक्टरों को अलर्ट मोड पर रहने को कहा गया है। उन्होंने बताया कि हमें पुणे की एक लैब से जीका वायरस के पहले पुष्ट मामले की रिपोर्ट मिली है.

Karnataka : जीका वायरस का पहला मामला सामने आने से बढ़ा तनाव, 5 साल की बच्ची की रिपोर्ट पॉजिटिव, डॉक्टर अलर्ट पर
Karnataka : जीका वायरस का पहला मामला सामने आने से बढ़ा तनाव, 5 साल की बच्ची की रिपोर्ट पॉजिटिव, डॉक्टर अलर्ट पर

जंहा इस बात का पता चला है कि तीन सैंपल लैब में भेजे गए थे. जिसमें से 2 की रिपोर्ट निगेटिव और एक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। हम लगातार मरीज के स्वास्थ्य की अपडेट ले रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने कहा कि कुछ महीने पहले जीका वायरस के मामले केरल, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में पाए गए थे। लेकिन कर्नाटक में यह पहला मामला है।

इसका खुलासा तब हुआ जब डेंगू और चिकनगुनिया की जांच कराई गई। आमतौर पर ऐसे 10 फीसदी सैंपल जांच के लिए पुणे भेजे जाते हैं, जिनमें से पॉजिटिव निकला है.

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि सरकार एहतियात बरत रही है. रायचूर सहित आसपास के जिलों में भी निगरानी के लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं.

इसके साथ ही कहा गया है कि अगर वे किसी अस्पताल में संक्रमित पाए जाते हैं तो वे उसकी जांच कराएं और जीका वायरस की जांच के लिए नमूने भेजें.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

MENU