aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल

Jal Jeevan Mission : ठेकेदारों के लिए खजाने का तिजोरी बना हुआ है जल जीवन मिशन

Jal Jeevan Mission :

 Jal Jeevan Mission : जिम्मेदारों के साठगांठ से गुणवत्ता विहीन पानी टंकी निर्माण कार्य जोरों पर

 Jal Jeevan Mission : सक्ती जैजैपुर ! केंद्र सरकार की महत्वकांक्षी योजना जमीनी धरातल नाकाम साबित हो रही है जल जीवन मिशन ठेकेदारों के लिए खजाने का तिजोरी बना हुआ है जैजैपुर विकासखंड में ठेकेदारों का भ्रष्टाचारी जल जीवन मिशन चरम पर अधिकारी सबकुछ जानबूझ कर भी चुप्पी साधे धृतराष्ट्र बने बैठे हैं !

Jal Jeevan Mission : ग्रामीण इलाकों में बन रहे पानी टंकी को लेकर पिछले कुछ महीनों से जैजैपुर ब्लॉक विभिन्न अखबारों में सुर्खियां बटोर रही है फिर भी जिम्मेदार अधिकारियों का मोनिटरिंग ना करना संदेह के दायरे में बना हुआ है बिना किसी सूचना पटल के ठेकेदारों द्वारा मनमाने तरीके से गुणवत्ता विहीन सामग्रियों के साथ मजदूरों के भरोसे पानी टंकी निर्माण कार्य छोड़कर अपनी निजी कामों में वयस्थ होकर मदमस्त हो जाना भी अधिकारियों के कार्यप्रणाली के ऊपर सावल खड़ा कर रही हैं !

Jal Jeevan Mission : जबकि इस विषय में विभाग इंजीनियर के साथ-साथ जिले के जिम्मेदार अधिकारियों को व्यक्तिगत जानकारी सोशल मीडिया के माध्यम से आये दिन दिया जा रहा है परंतु फिर भी जैजैपुर विकासखंड में पानी टंकी निर्माण कार्यों को लेकर अभी तक विभागीय अधिकारियों का कोई प्रतिक्रिया नजर नही आ रहा है नाही जिले के अधिकारियों के द्वारा कोई ऊँचीत दिशा निर्देशित कर अपने आला अधिकारियों को निर्माण स्थल का जायजा लेने में दिलचस्पी नहीं दिखा रहे है।

अब ऐसे में यह भी समझा जा सकता है कि जैजैपुर विकासखंड में जल जीवन मिशन को लेकर जिला प्रशासन के जिम्मेदारों द्वारा भी सरकार की महत्वकांक्षी योजनाओं के साथ बंदरबांट किया जा रहा है।

विकासखंड विभागीय इंजीनियर को जब बिना किसी सूचना पटल की बन रही पानी टंकी निर्माण कार्य की जानकारी के लिए फोन लगाया गया तो उन्होंने फोन उठाना उचित नहीं समझा। इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि आखिर विभाग के अधिकारी कितने जिम्मेदार है।

Jal Jeevan Mission : जैजैपुर ब्लाक में ऐसे दर्जनों ग्राम पंचायत है जहां ठेकेदारों द्वारा बिना किसी सूचना बोर्ड बेखौफ मजदूरों के सहारे निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार को अंजाम दिया जा रहा है घटिया मटेरियलों का उपयोग कर स्टीमेट के अनुसार कार्य ना करा कर पतली पोल के साथ लो क्वालिटी का छठ उपयोग कर पानी टंकी का न्यू रखा जा रहा है,पानी टंकी निर्माण कार्य को देख कर स्पष्ट अंदाज लागये जा सकता है कि नाही वो मजबूत ना ही लंबे समय तक टिकाऊ रह सकती है।

खास बात :-

आमकोनी और बरदुली ग्राम पंचायत में एक पानी टंकी के निर्माण के लिए लगभग पंचानवे लाख से एक करोड़ रुपए तक की राशि पीएचई विभाग के मनपसंद ठेकेदारों को दी जा रही है फिर भी करोड़ों की लागत से बनने वाली पानी टंकी ना तो मजबूती से खड़े होने की कगार पर है ना ही लंबे समय से चलने के लायक बनाया जा रहा है।

इन गांव में पानी टंकी चढ़ रही है भ्रष्टाचार की भेंट आमकोनी(छोटेछीर्राडीह),बरदुली,तुमिडीह, अचानकपुर,केकर्राभाट,चिसदा, करही, इन सभी ग्राम पंचायतों में पानी ताकि निर्माण कार्य का स्थिति गंभीर।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *