19.2 C
Chhattisgarh

jagdalpur news today आदिवासियों को गुमराह करने का प्रयास, क्या विधानसभा विशेष सत्र के बाद आदिवासियों को नौकरी मिलने लगेगी – केदार कश्यप

Chhattisgarh Newsjagdalpur news today आदिवासियों को गुमराह करने का प्रयास, क्या विधानसभा विशेष सत्र के बाद आदिवासियों को नौकरी मिलने लगेगी - केदार कश्यप

jagdalpur news today आदिवासियों को गुमराह करने का प्रयास, क्या विधानसभा विशेष सत्र के बाद आदिवासियों को नौकरी मिलने लगेगी – केदार कश्यप

jagdalpur news today आदिवासियों को गुमराह करने का प्रयास

jagdalpur news today जगदलपुर । प्रदेश भाजपा महामंत्री केदार कश्यप ने कांग्रेस सरकार पर छत्तीसगढिय़ा समाज के सभी वर्गों के साथ छल करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री बताएं कि क्या विधानसभा के विशेष सत्र के तुरंत बाद आदिवासियों को नौकरी मिलने लग जाएगी?

jagdalpur news today क्या मेडिकल शिक्षा एमबीबीएस में इस वर्ष जनजाति वर्ग के 104 बच्चों का जो नुकसान हो रहा था, उन बच्चों को मेडिकल कॉलेज में प्रवेश दिलाया जायेगा?

क्या रुकी हुई भर्ती प्रक्रिया 3 दिसंबर से शुरू हो जाएगी? प्रदेश भाजपा महामंत्री केदार कश्यप ने कहा कि कांग्रेस फिर से आदिवासियों को गुमराह करने के प्रयास में है, लेकिन छत्तीसगढ़ का आदिवासी समाज गुमराह नहीं होगा।

jagdalpur news today उन्होंने कहा कि यह सरकार केवल राजनीतिक छल कपट करना जानती है। जो लोग आदिवासी आरक्षण के खिलाफ पिटीशन लगाते हैं, कांग्रेस सरकार उन्हें पुरस्कृत करती है, सत्ता की मलाई खिलाती है।

आदिवासी वर्ग के आरक्षण के खिलाफ जिसने पिटीशन लगाई, उसे राज्य सरकार ने आयोग का अध्यक्ष बनाकर पुरस्कृत किया है। कांग्रेस ने ओबीसी वर्ग के साथ भी विश्वासघात किया, 27 प्रतिशत आरक्षण का वादा किया और अपने ही आदमी से इसके खिलाफ चुनौती पेश करवा दी।

jagdalpur news today पिछड़ा वर्ग के आरक्षण के लिए जिसने हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की और उस पर स्टे लगवाया, उसे सरकार पहले ही राज्य मंत्री बना चुकी है।

प्रदेश भाजपा महामंत्री केदार कश्यप ने कहा कि छत्तीसगढ़ में ऐसा कोई वर्ग बचा नहीं है, जिसे कांग्रेस सरकार ने छला नहीं है। सरकार के दोहरे चरित्र को छत्तीसगढ़ की जनता जान चुकी है। यह सरकार बेनकाब हो चुकी है।

विधानसभा के विशेष सत्र में सरकार को शपथ पत्र देकर छत्तीसगढ़ की जनता को विश्वास दिलाना चाहिए कि अपने किसी चंगू मंगू को उच्च न्यायालय में याचिका लगवाकर अपने उस विधेयक को निरस्त नहीं करवाएंगे।

Check out other tags:

Most Popular Articles