24.2 C
Chhattisgarh

Indian Railways रेलवे टिकटों की दलाली करने वाले 6 गिरफ्तार, 43 लाख जब्त

NationalIndian Railways रेलवे टिकटों की दलाली करने वाले 6 गिरफ्तार, 43 लाख जब्त

Indian Railways रेलवे टिकटों की दलाली करने वाले 6 गिरफ्तार, 43 लाख जब्त

Indian Railways रेलवे टिकटों की दलाली करने वाले 6 गिरफ्तार, 43 लाख जब्त

Indian Railways नई दिल्ली । भारतीय रेलवे के यात्री परिवहन में सीटों और बर्थ की बहुत अधिक मांग है। इस मांग को देखते हुए कई दलाल आरक्षित सीटों को थोक में बुक करवा कर अलग-अलग तरीकों से इस्तेमाल करते हैं और फिर उन्हें ऊंचे दामों पर जरूरतमंदों को बेचते हैं। आरपीएफ ने इसके खिलाफ एक अभियान ऑपरेशन उत्थान चलाया था। इसके तहत आरपीएफ की टीम ने 8.5.2022 को राजकोट के मन्नान वाघेला (ट्रैवल एजेंट) को पकड़ा था। उससे पूछताछ के आधार पर अन्य जगहों से और आरोपियों को पकड़ा गया है। जो थोक में रेलवे टिकटों को करवा कर उनको अवैध सॉफ्टवेयर के जरिए सर्कुलेट करते थे।

https://jandhara24.com/news/102083/international-yoga-day-many-celebrities-including-home-minister-sahu-mp-saroj-pandey-did-yoga-gave-these-messages/
राजकोट के वाघेला से मिली जानकारी के मुताबिक एक अन्य व्यक्ति कन्हैया गिरी को 17 जुलाई को मुंबई से गिरफ्तार किया गया था। पूछताछ के दौरान गिरी ने अपने खुलासे में अन्य सहयोगियों और वापी के एडमिन/डेवलपर अभिषेक शर्मा का नाम लिया था। जिसको 20 जुलाई को गिरफ्तार किया गया था।

अभिषेक शर्मा ही इन सभी का मास्टर माइंड था। उसने अवैध सॉफ्टवेयर्स के एडमिन होने की बात कबूल की है। आरपीएफ ने बाद में 3 और आरोपी व्यक्तियों, अमन कुमार शर्मा, वीरेंद्र गुप्ता और अभिषेक तिवारी को क्रमश: मुंबई, वलसाड (गुजरात) और सुल्तानपुर (यूपी) से गिरफ्तार किया है।

आरपीएफ इस मामले में शामिल कुछ और संदिग्धों की तलाश में है। ये आरोपी व्यक्ति आईआरसीटीसी के फर्जी वर्चुअल नंबर और फर्जी यूजर आईडी प्रदान करने के साथ-साथ सोशल मीडिया यानी टेलीग्राम, व्हाट्सएप आदि का उपयोग करके इन अवैध सॉफ्टवेयरों के विकास और बिक्री में शामिल थे।

इन आरोपियों के पास नकली आईपी पते बनाने के लिए सॉफ्टवेयर थे, जिनका इस्तेमाल ग्राहकों पर प्रति आईपी पते की सीमित संख्या में टिकट प्राप्त करने के लिए लगाए गए प्रतिबंध को दरकिनार करने के लिए किया जाता था। उन्होंने डिस्पोजेबल मोबाइल नंबर और डिस्पोजेबल ईमेल भी बेचे, जिनका उपयोग आईआरसीटीसी की फर्जी यूजर आईडी बनाने के लिए ओटीपी सत्यापन के लिए किया जाता है।

State government राज्य सरकार का 40,000 हिंदू मंदिरों पर नियंत्रण’-शीर्ष अदालत ने जारी किया नोटिस
इस मामले में इन सभी आरोपी व्यक्तियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई के क्रम में 1688 टिकटों की कीमत रु. 43,42,750/-, जहां यात्रा प्रारंभ नहीं की जा सकी, को जब्त कर लिया गया है। अतीत में, उन्होंने 28.14 करोड़ के टिकट खरीदे और बेचे थे, जिससे उन्हें भारी कमीशन मिला।

Check out other tags:

Most Popular Articles