aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल
Humar Beti Humar Maan : कमला देवी राठी महाविद्यालय में हमर बेटी हमर मान जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

Humar Beti Humar Maan : कमला देवी राठी महाविद्यालय में हमर बेटी हमर मान जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

Humar Beti Humar Maan : कमला देवी राठी महाविद्यालय में हमर बेटी हमर मान जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

Humar Beti Humar Maan : राजनांदगांव। शासकीय कमलादेवी राठी महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय, राजनांदगांव में पुलिस प्रशासन एवं महाविद्यालय की महिला प्रकोष्ठ के संयुक्त तत्वाधान में हमर बेटी हमर मान जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में प्रफुल्ल ठाकुर पुलिस अधीक्षक, पद्मश्री तंवर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, नेहा वर्मा उपपुलिस अध्यक्ष,

Jhumka Water Festival : कोरिया पुलिस ने की झुमका जल महोत्सव के पार्किंग की व्यवस्था

Humar Beti Humar Maan : सुश्री तनुप्रिया ठाकुर उप पुलिस अध्यक्ष राजनादगांव उपस्थित रहे। कार्यक्रम का प्रारंभ दीप प्रज्जवलित कर किया गया। डॉ. आलोक मिश्रा, प्राचार्य ने अतिथियों का स्वागत कर कहा कि इस तरह के जागरूकता कार्यक्रम समय-समय पर होना चाहिए, ताकि छात्राएं अपने अधिकार एवं कर्तव्य से परिचित होती रहे। इस अभियान में सबका योगदान होना चाहिए। सामाजिक जिम्मेदारी निभाते हुए इस कार्यक्रम को सफल बनाये।

https://www.jandhara24.com/news/137923/executive-meeting-pms-meeting
डॉ. हरप्रीत कौर गरचा प्रभारी महिला प्रकोष्ठ ने कार्यक्रम के उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए कहा कि बेटियों को सशक्त और सुरक्षित करने के उद्देश्य से हमर बेटी-हमर मान के नाम से इस अभियान की शुरूआत की गई है।

महाविद्यालय स्तर पर भी वूमन सेल का गठन किया गया है, जहां छात्राएं अपनी शिकायत दर्ज करा सकती है तथा महाविद्यालय प्रशासन समय-समय पर समिति की कार्यप्रणाली की जानकारी लेता रहता है।

पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल ठाकुर ने कहा कि इस अभियान के तहत छत्तीसगढ़ पुलिस की महिला अधिकारी व कर्मचारी प्रदेश के सभी जिलों के स्कूूल-कॉलेजों में जाकर बेटियों को उनके कानूनी अधिकार, गुड और बेड टच, छेड़खानी, यान शोषण, साइबर क्राइम, सोशल मिडिया क्राइम से बचाव और अधिकारी जैसे बातों पर मार्गदर्शन और संवाद

करेंगी। इसके साथ ही सभी गर्ल्स स्कूल-कॉलेजों और महिलाओं की उपस्थिति वाली प्रमुख जगहों पर पुलिस की स्पेशल महिला पेट्रोलिंग लगाई जायेगी। बेटियों के लिए एक हेल्प लाइन नंबर 9118001236010 भी जारी की गई है, जिस पर महिला संबंधी अपराधों की विवेचना प्राथमिकता के आधार पर महिला विवेचकों से ही करवाई

जायेगी। साथ ही ऐसे अपराधों की विवेचना निर्धारित समय में पूरी होकर चालान पेश हो जाए, ये सुनिश्चित करने का दायित्व आईजी रेंज को होगा। बेटियां सुरक्षा के लिए मोबाईल एप अभिव्यक्ति का उपयोग कर सकती है।
इस अवसर पर क्रीड़ा विभाग द्वारा इस्ट जोन यूनिवर्सिटी, ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी तथा खेलो इंडियो खेलों के विजेता खिलाड़ियों को नगद पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम का संचालन करने हुए डॉ. निवेदिता ए. लाल ने कहा कि जिस समाज में बेटियां सुरक्षित और सशक्त हो, वह समाज प्रगति के पथ पर अग्रसर होता है। हमारी बेटियां

हमारी शान है और वे प्रदेश के उज्जवल भविष्य की नींव है और इनकी सुरक्षा हम सबकी जिम्मेदारी है। समस्त अतिथियों को महाविद्यालय परिवार की ओर से स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम के अंत में डॉ. जीपी रात्रे, सहायक प्राध्यापक द्वारा समस्त अतिथियों को धन्यवाद ज्ञापित किया गया। कार्यक्रम में डॉ. एमएल साव, आलोक जोशी, एमके मेश्राम, डॉ. युगेश्वरी साहू, श्रीमती तारा ठाकुर, श्रीमती नीलम धनसाय, डॉ. नीता एस. नायर, श्रीमती कामिनी देवांगन, कु. प्रिया तलरेजा, जनभागीदारी व्याख्याता तथा अधिक संख्या में छात्राएं उपस्थित रही।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *