31.2 C
Chhattisgarh

Har ghar tricolor campaign : अपने खून-पसीने की कमाई से अपने घर पर फहराने के लिए लें तिरंगा

Mp NewsHar ghar tricolor campaign : अपने खून-पसीने की कमाई से अपने घर पर फहराने के लिए लें तिरंगा

Har ghar tricolor campaign : अपने खून-पसीने की कमाई से अपने घर पर फहराने के लिए लें तिरंगा

Har ghar tricolor campaign : राष्ट्रीय ध्वज देश का गौरव और सम्मान

Har ghar tricolor campaign : भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि हमारा राष्ट्रीय ध्वज देश का गौरव और सम्मान है।

जान भले ही चली जाए, लेकिन तिरंगे की शान नहीं जानी चाहिए। हर घर तिरंगा अभियान में हम अपने खून-पसीने की कमाई से अपने घर पर फहराने के लिए तिरंगा लें।

Har ghar tricolor campaign : मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं आप सबसे आह्वान करता हूँ कि प्रत्येक व्यक्ति राष्ट्र ध्वज के साथ अपनी सेल्फी अपलोड करें। उन्होंने भोपाल की 10 नंबर मार्केट स्थित राग दरबारी परिसर में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

Har ghar tricolor campaign : CM चौहान हर घर तिरंगा अभियान के लिए राष्ट्र ध्वज लेने स्वयं राग दरबारी पहुँचे। परिसर में ग्रामीण महिलाओं के स्व-सहायता समूह के स्टॉल से ध्वज लिया।

Har ghar tricolor campaign : CM चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आजादी के अमृत काल में हर घर तिरंगा लहराने का आह्वान किया है।

मध्यप्रदेश में हमने तय किया है कि हर घर में 13 से 15 अगस्त तक तिरंगा फहरेगा। संपूर्ण प्रदेश में स्व-सहायता समूह की महिलाएँ राष्ट्रीय ध्वज की आपूर्ति में दिन-रात लगी हैं। राष्ट्र ध्वज इस धरती का हमारे ऊपर कर्ज है।

मुख्यमंत्री CM चौहान ने कहा कि मैं राष्ट्र ध्वज मंगवा सकता था, लेकिन मैं हर घर तिरंगा अभियान में स्वयं राष्ट्र ध्वज लेने यहाँ आया हूँ। आप भी स्वयं जाकर राष्ट्र ध्वज लें और अपने घर पर उत्साह और उमंग के साथ तिरंगा फहराएँ।

मुख्यमंत्री ने 10 नंबर स्थित राग दरबारी परिसर में भोपाल जिले के ईटखेड़ी गाँव के समर्थन स्व-सहायता समूह की महिलाओं से रसीद कटवाकर तिरंगा लिया।

मुख्यमंत्री ने समूह की सुश्री शिखा मीना, ज्योति विश्वकर्मा, कौसर जहाँ, मंजू गड़वाल, राधा मीना और कृष्णा विश्वकर्मा से तिरंगा निर्माण के लिए जारी गतिविधियों के संबंध में चर्चा की।

उल्लेखनीय है कि प्रदेश में महिलाओं के स्व-सहायता समूहों द्वारा बड़े पैमाने पर झंडों का निर्माण जारी है।

साथ ही सूक्ष्म, लघु तथा मध्यम स्तर के उद्यमी, दर्जी, प्रिंटर आदि की सेवाएं भी झंडों की आपूर्ति के लिए ली गई हैं। प्रदेश में 01 करोड़ 51 लाख झंडों की आपूर्ति का लक्ष्य है।

also read : https://jandhara24.com/news/107339/cbse-result-2022-class-12th-class-12th-result-can-be-seen-on-this-website-cbseresults-nic-in/

भारत सरकार की वेबसाइट पर झंडे के साथ सेल्फी अपलोड की जाना है। अधिकतम जन-भागीदारी के लिए सोशल मीडिया सहित सभी संचार माध्यमों का उपयोग भी किया जा रहा है।

also read : District Union : जिला यूनियन प्रबंधक संघ के सदाराम अध्यक्ष एवं बनाये गए सतीश सचिव

Check out other tags:

Most Popular Articles