29.2 C
Chhattisgarh

Education in bastar बस्तर में शिक्षा क्षेत्र को चट कर रही है यह विभागीय दीमक

Chhattisgarh NewsEducation in bastar बस्तर में शिक्षा क्षेत्र को चट कर रही है यह विभागीय दीमक

Education in bastar बस्तर में शिक्षा क्षेत्र को चट कर रही है यह विभागीय दीमक

Education in bastar जिला शिक्षा अधिकारी जो इस मामले में अनाड़ी साबित…….

Education in bastar
Education in bastar बस्तर में शिक्षा क्षेत्र को चट कर रही है यह विभागीय दीमक

Education in bastar जगदलपुर। सरकार बदलने के साथ ही बस्तर संभाग में विकास कार्य प्रारंभ होने का सिलसिला प्रारंभ हुआ। समुचित विकास हेतु राशि दी गई। लेकिन विकास कार्य का बखान करते समय यह देखना जरूरी है कि आबंटित राशि का उपयोग अधिकारी किस प्रकार कर रहे हैं।

Raipur News Today मुणत द्वारा ईडी सीबीआई की पैरोकारी कांग्रेस ने बताया भाजपा की तिलमिलाहट

Education in bastar बस्तर संभाग के बस्तर जिला मुख्यालय में ही विधानसभा क्षेत्रों में निर्माण शाखा के अलावा अन्य विभाग से संबंधित अधिकारी सत्ता से करीबी रहने वाले नेताओं के साथ मिलकर भ्रष्टाचार कर रहे हैं। पिछले दिनों शिक्षा विभाग से संबंधित एक विकासखंड शिक्षा अधिकारी द्वारा अपने पद का दुरुपयोग करते हुए अपने विकासखंड क्षेत्र में शिक्षा विभाग को आबंटित कई करोड़ की राशि को मनमाने ढंग से खर्च करने का मामला सामने आया है।

Education in bastar यह अधिकारी बस्तर जिले में अपनी पदस्थापना से पहले दंतेवाड़ा जिले में पदस्थ था। सन् 2017 में कई करोड़ रुपए की अफरातफरी करने के कारण इसे दंतेवाड़ा कलेक्टर द्वारा निलंबित भी किया गया था किन्तु तत्कालीन भाजपा सरकार के शिक्षामंत्री के काफी करीबी होने के कारण इसे बचाकर बस्तर जिले के मुख्यालय विकासखंड में पदस्थ कर दिया गया।

सूत्रों का कहना है कि ये अधिकारी गीदम विकासखंड के अलावा बस्तर जिले में अपनी पदस्थापना के दौरान निर्माण कार्य के दौरान करोड़ों रुपए की राशि अपने-अपनों की बीच बांटकर अपने आप को सुरक्षित बचाये रखा। लेकिन सरकार बदलने के बाद इस अधिकारी ने पाला बदला और कांग्रेसी नेताओं के करीब पहुंच गया।

इस विकासखंड अधिकारी के हौसले इस तरह आसमान पर हैं कि इसके द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी को भी जेब में रखने का दावा करते हुए तत्कालीन शिक्षा अधिकारियों को अपने सहयोगियों के माध्यम से उलझा कर रखा। पिछले वर्ष के दौरान दो जिला शिक्षा अधिकारी या तो बदले गए या निलंबित हुए। इस विकासखंड अधिकारी ने स्थानीय अपने करीबी कांग्रेसी नेताओं के साथ मिलकर शिक्षा विभाग को दी जाने वाली सीधी राशि का दुरुपयोग करना शुरू कर दिया।

इस अधिकारी ने अपने कई साथी विकासखंड अधिकारी की मदद से जिला शिक्षा अधिकारी का प्रभार एक ऐसी महिला को दिलवाने में मदद की, जो उनके बीच केवल काठ की पुतली साबित हो रही है। शिक्षा विभाग द्वारा आबंटित राशि के माध्यम से बस्तर जिले के कई विकासखंडों में जारी निर्माण कार्यों की जानकारी अब धीरे-धीरे सामने आ रही है किंतु जगदलपुर विकासखंड के कई शिक्षा विभाग द्वारा संचालित स्कूलों में शिक्षा मद से जारी राशि के माध्यम से निर्माण कार्य की कार्य के बहाने निविदा निकाली गई एवं अपने चहेतों ठेकेदारों को कार्य करने का अवसर भी प्रदान किया गया !

परंतु बताते हैं कि जिले के कई सत्ताधारी दल के नेता से सीधे संपर्क होने के कारण उक्त मद से आधा-अधूरा निर्माण कार्य कर बाकी राशियों को आहरण कर लिया गया। सत्ताधारी नेता और सरकारी अधिकारी खासकर पिछली सरकार में मिलकर जिन्होंने मलाई खायी थी, इस बार भी विगत तीन वर्षों से खेल कर रहे हैं।

Education in bastar शिक्षा विभाग के सूत्रों ने बताया कि शिक्षा विभाग के माध्यम से आबंटित निर्माण कार्य की राशि इन विकासखंड शिक्षा अधिकारियों द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी पर दबाव डालकर आहरित कर बंदरबांट सबके साथ मिलकर की जाती थी। जिला शिक्षा विभाग में महिला अधिकारी की नियुक्ति के साथ ही ज्वाइंट डायरेक्टर के रूप में एक अधिकारी की नियुक्ति भी हुई। इस अधिकारी ने ऐसे गड़बड़ घोटालों पर लगाम लगाने की कोशिश की और ऐसे विकास खंड अधिकारियों की एक विस्तृत रिपोर्ट शिक्षा विभाग को भेजी। जिससे नाखुश इन विकासखंड अधिकारियों ने इस उच्च अधिकारी पर जिले के बड़े नेताओं एवं प्रदेश स्तर के नेताओं के माध्यम से काफी दबाव बनाना प्रारंभ कर दिया।

Education in bastar जिससे क्षुब्द हो कर उक्त अधिकारी बार-बार छु़ट्टी लेकर ऐसे कृत्यों से अपने आप को बचाने का प्रयास किया किंतु पिछले दिनों उसकी संदेहास्पद मौत ने लोगों को अब यह सोचने को मजबूर कर दिया है कि क्या वे अधिकारी ऐसे विकासखंड शिक्षा अधिकारियों की माफियागिरी के कारण परेशान थे, जो अनुचित रूप से कमाया धन स्थानीय नेताओं के ऊपर खर्च कर ऐसे अधिकारी पर बार-बार अनावश्यक रूप से मानसिक दबाव बनाकर कर उसे प्रताडि़त कर रहे थे।

https://jandhara24.com/news/109790/the-dead-body-of-the-middle-aged-found-in-the-breaking-kachana-pond-sensation-spread-in-the-area/

Education in bastar यह भी जानकारी मिली है कि वर्तमान में पदस्थ प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी जो इस मामले में अनाड़ी साबित होकर विकासखंड शिक्षा अधिकारी से मिलकर अपनी पदस्थापना के साथ ही शिक्षा विभाग द्वारा आबंटित धन का खेल करने में लगी है। शिक्षा जैसे महत्वपूर्ण विभाग में बस्तर जैसे क्षेत्र में शिक्षा स्तर सुधारने हेतु राशि दी जाती है। किंतु ऐसे शिक्षा माफियाओं द्वारा सत्ता के करीबी नेताओं से मिलकर केवल धन कमाने हेतु शिक्षा विभाग में पदस्थ कई अच्छे अधिकारियों की बलि भी ले ली जाती है!

 

Check out other tags:

Most Popular Articles