21.2 C
Chhattisgarh

Dussehra Festival in Charama भव्य आयोजन को लेकर चारामा में दशहरा महोत्सव प्रसिद्ध

Chhattisgarh NewsDussehra Festival in Charama भव्य आयोजन को लेकर चारामा में दशहरा महोत्सव प्रसिद्ध

Dussehra Festival in Charama भव्य आयोजन को लेकर चारामा में दशहरा महोत्सव प्रसिद्ध

Dussehra Festival in Charama रावण दहन और आतिशबाजी मैं लगभग 02 लाख से अधिक का खर्च

Dussehra Festival in Charama चारामा ! ग्राम अरोद में लगातार 83 वे वर्ष भी दशहरा महोत्सव समिति,नवयुवक मंडल और ग्रामीणों के तत्वाधान में 7 अक्टूबर शुक्रवार को रावण दहन एवं आतिशबाजी का कार्यक्रम आयोजित किया गया है। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अमरजीत भगत मंत्री संस्कृति एवं खाद्य मंत्री छत्तीसगढ़ शासन, अध्यक्षता मनोज मंडावी उपाध्यक्ष विधानसभा एवं क्षेत्र के विधायक, विशिष्ट अतिथि मोहन मंडावी सांसद, नरेंद्र यादव सदस्य गौ सेवा आयोग, हेमंत ध्रुव अध्यक्ष जिला पंचायत कांकेर, हेम नारायण गजबल्ला उपाध्यक्ष जिला पंचायत कांकेर , बिरेश ठाकुर सदस्य बस्तर विकास प्राधिकरण, मिथलेश शोरी जिला पंचायत सदस्य, दीपा सलाम जनपद सदस्य, ठाकुर राम कश्यप अध्यक्ष ब्लॉक कांग्रेस कमेटी, सत्यवती मरकाम ग्राम सरपंच, बीएन हिरवानी सरपंच ,बद्रीश सुखदेवे, अश्वनी मिश्रा ,गौतम लुंकड़, अभय बाफना, ज्ञानीराम रामटेके, रामाधार पटेल सहित गणमान्य ग्रामीण उपस्थित रहेंगे।

Dussehra Festival in Charama  कार्यक्रम शाम 5:00 बजे से झांकी ,7:00 बजे रावण दहन एवं आतिशबाजी एवं रात्रि 10:00 बजे से लोकरंग अर्जुंदा दीपक चंद्राकर की प्रस्तुति का कार्यक्रम आयोजित होगा ।विदित हो कि ग्राम अरोद का कांकेर जिला सहित प्रदेश में दशहरा के भव्य आयोजन को लेकर दशहरा महोत्सव प्रसिद्ध है इस दशहरा महोत्सव में प्रतिवर्ष एक संदेशात्मक झांकी प्रदर्शित की जाती है ,साथ ही लगभग 60 से 70 फीट ऊंचे रावण का इलेक्ट्रॉनिक पद्धति से दहन किया जाता है, यह परंपरा पिछले 83 वर्षों से चलती आ रही है और जिसे देखने पूरे विकासखंड चारामा ,कांकेर जिला और अन्य जिलों से लोग पहुंचते हैं ।

Dussehra Festival in Charama  प्रति वर्ष कार्य क्रम में मुख्य अतिथि के रुप में प्रदेश के बड़े जनप्रतिनिधि शामिल होते हैं ,पूर्व में इस कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी शामिल हो चुके हैं और कार्यक्रम की महत्ता बहुत अधिक है। जिसकी तैयारियों में समिति एवम युवक एक माह से लग चुके हैं।रावण का पुतला तैयार किया जा रहा हैं और आयोजन की तैयारी जारी हैं।यह भी बता दे की इस आयोजन में के रावण दहन और आतिशबाजी मैं लगभग 02 लाख से अधिक का खर्च आता हैं जिसे सभी ग्रामीणों और आम जन के सहयोग से पूर्ण किया जा रहा हैं।

Check out other tags:

Most Popular Articles