aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल

(Dudhadhari Bajrang Mahila Mahavidyalaya) दूधाधारी बजरंग महिला महाविद्यालय में नमन ज्योति स्मारक का लोकार्पण

(Dudhadhari Bajrang Mahila Mahavidyalaya)

(Dudhadhari Bajrang Mahila Mahavidyalaya) दूधाधारी बजरंग महिला महाविद्यालय में नमन ज्योति स्मारक का लोकार्पण

(Dudhadhari Bajrang Mahila Mahavidyalaya)  रायपुर !  नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जन्म जयंती 23 जनवरी ‘पराक्रम दिवस’ के अवसर पर शासकीय दूधाधारी बजरंग महिला स्वशासी स्नातकोत्तर महाविद्यालय में वीर शहीदों की स्मृति में नमन ज्योति स्मारक का लोकार्पण किया गया ।

(Dudhadhari Bajrang Mahila Mahavidyalaya)  इस अवसर पर ‘ तरुणाई के सपने ‘ व्याख्यान का आयोजन भी किया गया। कार्यक्रम महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ किरण गजपाल के संरक्षण एवं मार्गदर्शन में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में मेजर जनरल श्री संजय शर्मा सेवानिवृत्त भारतीय सेना उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर्नल  अश्विन सिन्हा कमान अधिकारी 8 CG गर्ल्स एन. सी.सी.बटालियन रायपुर के द्वारा किया गया।

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में  मयंक चतुर्वेदी ,आयुक्त नगर निगम रायपुर रहे। कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों के द्वारा मां सरस्वती का दीप प्रज्वलन कर किया गया। स्वागत भाषण में महाविद्यालय की एनसीसी अधिकारी डॉ शम्पा चौबे ने पराक्रम दिवस के अवसर पर सुभाषचंद्र बोस एवं देश के वीर योद्धाओं के साहस एवं पराक्रम को स्मरण किया ।

(Dudhadhari Bajrang Mahila Mahavidyalaya)  उन्होंने कहा देश के अमर जवान ज्योति स्मारक से नमन ज्योति स्मारक महाविद्यालय में स्थापित करने की प्रेरणा मिली।महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ किरण गजपाल ने नेताजी सुभाषचंद्र बोस के पराक्रम को स्मरण किया उन्होंने कहा कि नमन ज्योति स्मारक के माध्यम से छात्राओं को देश भक्ति के लिए प्रेरणा मिलेगी।

(Dudhadhari Bajrang Mahila Mahavidyalaya)  महाविद्यालय सदैव नवाचार के लिए आगे रहा है। और नमन ज्योति स्मारक इसका उदाहरण है। 8cg गर्ल्स एनसीसी बटालियन के कमान अधिकारी श्री कर्नल अश्विन सिन्हा ने अपने उद्बोधन में कहा कि यह गर्व की बात है कि महाविद्यालय ने नमन ज्योति स्मारक जैसी अदभुत सोच को मूर्त रूप दिया है। उन्होंने कहा कि एनसीसी ,कैडेट्स में एकता और अनुशासन की भावना को जागृत करता है। हमारे जीवन मे कोई न कोई रोल मॉडल अवश्य होता है जिनसे प्रेरित होकर हमें भी उनके जैसा बनने की इच्छा होती है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री संजय शर्मा ने अपने वक्तव्य में कहा कि नेताजी ने अंडमान निकोबार द्वीप समूह में रहते हुए आजाद हिन्द फौज की स्थापना की।

उन्होंने अपने अंडमान निकोबार द्वीप में रहते हुए अपने अनुभव साझा किए। अपने उदबोधन में श्री संजय शर्मा ने कहा कि शिक्षा ही एक ऐसा माध्यम जो सर्वांगीण विकास करता है हमारे देश मे सभी बच्चों के लिए शिक्षा उपलब्ध है बल्कि अन्य देशों में बच्चों को अपनी शिक्षा के लिए बहुत कष्टों का सामना करना पड़ता है।

कार्यकम का आयोजन महाविद्यालय की एनसीसी अधिकारी डॉ शम्पा चौबे एवं इतिहास विभाग द्वारा सम्पन्न कराया गया। कार्यक्रम में महाविद्यालय के सभी विभागों के विभागाध्यक्ष ,सहायक प्राध्यापक , महाविद्यालय के समस्त अधिकारी – कर्मचारी एवं श्री करुणा शंकर चौबे, दानदाता श्री कमलेश जैन,एनसीसी कैडेट्स एवं बड़ी संख्या में छात्राएं उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन डॉ कल्पना मिश्रा ने किया ।आभार प्रदर्शन डॉ. सरिता दुबे द्वारा किया गया। विभिन्न महाविद्यालयों के एनसीसी ऑफिसर एवं कैडेट्स उपस्थित थे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *