aajkijandhara

Transfer ट्रांसफर के नाम पर महिला कर्मचारी को अपने पास बुलाने का ऑडियो सोशल मिडिया पर वायरल

Chicken Fox in Chhattisgarh : चिकन फॉक्स का कहर 12 स्कूली बच्चों सहित 40 प्रभावित, जानें लक्षण और सावधानियां

Chicken Fox in Chhattisgarh : चिकन फॉक्स का कहर 12 स्कूली बच्चों सहित 40 प्रभावित, जानें लक्षण और सावधानियां

Chicken Fox in Chhattisgarh : चिकन फॉक्स का कहर 12 स्कूली बच्चों सहित 40 प्रभावित, जानें लक्षण और सावधानियां

 

Chicken Fox in Chhattisgarh :बालोद : चिकन पॉक्स की 3 स्टेज क्या हैं? इन दिनों दुनिया के कई देशों में कोरोना की चौथी लहर तबाही मचा रही है. हालात को देखते हुए भारत में भी अलर्ट जारी किया गया है। दूसरी ओर छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में चेचक कहर बरपा रहा है। कहा जाता है कि यहां चेचक के 40 से ज्यादा मामले पाए गए हैं।

Chicken Fox in Chhattisgarh : चिकन फॉक्स का कहर 12 स्कूली बच्चों सहित 40 प्रभावित, जानें लक्षण और सावधानियां
Chicken Fox in Chhattisgarh : चिकन फॉक्स का कहर 12 स्कूली बच्चों सहित 40 प्रभावित, जानें लक्षण और सावधानियां

Gandhi Godse Ek Yudh Trailer Release : गांधी गोडसे एक युद्ध’ का ट्रेलर रिलीज, फैंस बोले- यकीन नहीं होता…

Chicken Fox in Chhattisgarh : चिकन पॉक्स के 3 चरण क्या हैं? प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में 40 से अधिक बच्चे चिकन पॉक्स की चपेट में आ चुके हैं। बताया जा रहा है कि 12 स्कूली बच्चे भी इस बीमारी की चपेट में हैं. स्थिति को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग मुस्तैद है और जिले के चंदनबिहारी गांव में अस्थाई कैंप लगाकर मरीजों का इलाज किया जा रहा है.

Chicken Fox in Chhattisgarh : चिकन फॉक्स का कहर 12 स्कूली बच्चों सहित 40 प्रभावित, जानें लक्षण और सावधानियां
Chicken Fox in Chhattisgarh : चिकन फॉक्स का कहर 12 स्कूली बच्चों सहित 40 प्रभावित, जानें लक्षण और सावधानियां

https://jandhara24.com/news/136865/who-alerts-on-2-indian-syrup-companies-after-the-death-of-children-in-uzbekistan/

चेचक क्या है

यह एयरबोर्न है या यूं कहें कि यह एक एयरबोर्न वायरल बीमारी है। इससे शरीर में फुंसियां, घाव जैसे हो जाते हैं, जो दर्द देते हैं। यह एक खतरनाक संक्रामक रोग है। चिकनपॉक्स एक छूत की बीमारी है, यानी एक वायरल संक्रमण जो हर्पीज वैरीसेला-जोस्टर वायरस के कारण होता है।

चिकन पॉक्स के लक्षण

– बुखार
– कमज़ोरी
– सिरदर्द
– पेट दर्द
त्वचा पर एक छोटा सा दाने
– अनाज में पानी
– त्वचा में सूजन आना
– त्वचा पर निशान

बच्चों की देखभाल कैसे करें

चिकन पॉक्स होने पर बच्चे को पूरा आराम दें और ज्यादातर तरल पदार्थ ही दें। वैसे तो चिकन पॉक्स एक से दो हफ्ते में अपने आप ठीक हो जाता है, लेकिन इसके लिए डॉक्टर को दिखाना जरूरी है।
– दानों पर खुजली के लिए मुलायम कपड़े से थपथपाएं
बच्चे को अच्छी चीजें दें
– दानों को खुरचने या खरोंचने न दें
– नाखून काटना
दाने पर एंटीहिस्टामाइन लगाएं
– बच्चे को रोजाना नहलाएं
बच्चे के शरीर को तौलिए से न रगड़ें, बल्कि थपथपाकर सुखाएं।
वैसे तो चिकन पॉक्स एक आम बीमारी है, लेकिन कई मामलों में यह गंभीर भी हो सकती है, चिकन पॉक्स के लक्षण दिखते ही डॉक्टर से संपर्क करें।

1 thought on “Chicken Fox in Chhattisgarh : चिकन फॉक्स का कहर 12 स्कूली बच्चों सहित 40 प्रभावित, जानें लक्षण और सावधानियां”

  1. Pingback: Tina Dutta : अपने पुराने प्यार को याद कर भावुक हुईं टीना दत्ता... - aajkijandhara

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *