breaking news New

नाटय निर्देशक प्रो. सत्यव्रत ने फोटोग्राफी पर ली कार्यशाला, नवोदित नाटयकर्मियों को दिया विदेशी रंगमंच का ज्ञान

नाटय निर्देशक प्रो. सत्यव्रत ने फोटोग्राफी पर ली कार्यशाला, नवोदित नाटयकर्मियों को दिया विदेशी रंगमंच का ज्ञान


रायपुर. भारतीय रंगमंच के सुप्रसिद रंगकर्म निदेशक व नाटयकर्मी प्रो. सत्यव्रत आज दोपहर रायपुर में थे. उन्होंने सडडू स्थित जनमंच में आयोजित एकदिवसीय कार्यशाला में रंगकर्मियों से मुलाकात की, उनका मार्गदर्शन किया तथा नवोदित नाटयकर्मियों को रंगमंच के गुर भी बताए.

प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन छत्तीसगढ़ फिल्म एंड विजुअल आर्ट सोसाइटी द्वारा रखा गया था. प्रांरभ में संस्था के अध्यक्ष सुभाष मिश्र और रंगकर्मी रचना मिश्र ने श्री सत्यव्रत का स्वागत किया तथा उनका परिचय दिया. सत्यव्रत जी सिनिक डिजाइन, मास्क प्रॉपटीज में विशेषज्ञ हैं तथा देश विदेश के कई महत्वपूर्ण निर्देशकों के साथ काम किया है. वर्तमान में वे हैदराबाद सेन्ट्रल यनिवर्सिटी में रंगमंच के प्रोफेसर हैं.


श्री सत्यव्रत ने रंगकर्मियों का मार्गदर्शन करते हुए उन्हें प्रोजेक्टर के माध्यम से रंगमंच की डिजाइन और फोटो का बेहतरीन इस्तेमाल करना सिखाया. उन्होंने काफी सारी अपनी डिजाइन की फोटो भी प्रोजेक्टर के माध्यम से सभी लोगो में शेयर की. उन्होंंने कहा कि जीवन में सफलता चाहिए तो किसी एक चीज में कमान रखना जरुरी है जिससे लोग आपको उसी चीज के लिए जाने. उन्होंने अपनी बातों में यूरोपियन, ग्रीक देशों के रंगमंच में होने वाले प्रयोगों को बताया जिसे नवोदित रंगकर्मियों ने काफी उत्सुकता से सुना तथा उनसे जिज्ञासा का समाधान भी किया.

सत्यव्रत जी काफी संघर्षशील वयक्ति रहे हैं इसलिए अपने जीवन की संघर्षयात्रा को भी उपस्थितजनों से शेयर किया. इस कार्यक्रम में रंगमंच के विभिन्न कलाकारों ने भाग लिया. इस कार्यशाला में मुख्य रूप से सुभाष मिश्रा, योग मिश्रा, योगेंद्र चौबे सहित अनेक रंगकर्मी मौजूद थे.