breaking news New

उद्योगपति राजीव कपूर और उनकी पत्नी के खिलाफ 10 करोड़ की धोखाधड़ी का मामला दर्ज, पुलिस ने शुरू की जांच,

उद्योगपति राजीव कपूर और उनकी पत्नी के खिलाफ 10 करोड़ की धोखाधड़ी का मामला दर्ज, पुलिस ने शुरू की जांच,


चमन प्रकाश केयर
रायपुर. राजधानी के उद्योगपति राजीव कपूर और उनकी पत्नी शिल्पा के खिलाफ धोखाधड़ी का जुर्म दर्ज हुआ है। कारोबारी पर 10 करोड़ की संपत्ति अपने नाम करने का आरोप उन्हीं की कंपनी के चेयरमेन श्याम सोमानी ने लगाया है. प्रकरण धरसींवा थाना क्षेत्र के सिलतरा में संचालित स्पंज आयरन प्लांट से जुड़ा है। पूरा मामला आपसी रिश्तेदारी से जुड़ा लगता है.

जगदलपुर निवासी शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया कि बलदेव एलायस कंपनी के नाम पर दो जमीनें नागपुर और महाराष्ट्र में थी। आरोपी राजीव कपूर उसकी पत्नी शिल्पा कपूर और नौकर कृष्णा स्वामी ने 2014 में विदर्भ इंफ्रा रियलिटी और शिल्पा एनर्जी नाम की दो कंपनियां बनाई। गलत तरीके से एचडीएफसी बैंक में खाता भी खुलवाया गया। बलदेव एलायज का एक ऐसा बैंक अकाउंट था जो आरोपी राजीव ही संभालता था। इसी खाते में विदर्भ एवं शिल्पा एनर्जी के 1 करोड़ 15 लाख और 30 लाख के चेक जमा कराकर गबन कर लिया गया।

पुलिस में दर्ज एफआईआर के मुताबिक प्लांट के मालिक चौबे कॉलोनी निवासी राजीव कपूर ने अपनी पत्नी और नौकर के साथ मिलकर, नागपुर स्थित संपत्ति को अपने नाम कर लिया। पूरा मामला आपसी रिश्तेदारी से जुड़ा दिखता है. शिकायतकर्ता श्याम सोमानी का कहना है कि मैं जगदलपुर में परिवार सहित रहता हूं। मेरे चाचा श्याम सोमानी, जितेन्द्र सोमानी, संजीव कपूर एवं राजीव कपूर व्दारा बलदेव एलायस प्रा लिमि नामक कंपनी का सिलतरा में संयुक्त रूप से संचालन करते थे।

  • सिलतरा में स्थित बलदेव अलायज कंपनी के चेयरमेन श्याम सोमानी ने कराई एफआईआर
    डायरेक्टर्स को बताए बगैर बेच दी नागपुर की जमीनें, पुलिस ने शुरू की जांच


रायपुर पुलिस अधीक्षक के नाम की गई शिकायत में शिकायकर्ता ने कहा कि इस कंपनी का मैं अंशधारक भी हूं. कंपनी घाटे में होने के कारण कंपनी को बेचना पड़ा. बलदेव एलायस प्रा लिमि कंपनी के नाम पर दो संपत्ति नागपुर महाराष्ट्र में थी जिसे कंपनी के पार्टनर राजीव कपूर, शिल्पा कपूर एवं वामसी कृष्णा व्दारा अपराधिक षडयंत्र कर कंपनी की नागपुर की संपति को बेचकर धोखाधडी किया हैं जिससे कंपनी को नुकसान पहुंचाया है. उपरोक्त दोनों संपत्ति आज भी कंपनी के खाताबही में दर्ज हैं. जबकि मुझे ज्ञात हुआ कि वर्ष 2014 में उक्त निदेशक राजीव कपूर ने बदनियति से उक्त दोनों संपत्ति को हडपने हेतु अपनी पत्नी शिल्पा कपूर एवं अपने कर्मचारी वामसी कृष्णा के साथ मिलकर दो कंपनियां- विदर्भ इंफ्रा रियलिटी प्रा लिमि एवं शिल्पा एनर्जी प्रा लिमि का गठन किया गया। उपरोक्त दोनों कंपनियों में शिल्पा कपूर एवं वामसी कृष्णा निदेशक हैं.


इस पूरे मामले की पुष्टि करते हुए धरसींवा थाना के पुलिस अधिकारी नरेन्द्र बंछोर ने कहा कि शिकायत मिल गई है. एफआईआर भी की गई है. मामले की जांच की जा रही है.

दूसरी ओर इस संवाददाता ने जब आरोपी राजीव कपूर को उनके मोबाइल पर फोन करके उनका पक्ष जानने की कोशिश की गई तो किसी दूसरे व्यक्ति ने फोन उठाया और उनसे थोड़ी देर में बात कराने का आश्वासन देकर फोन स्विच्ड आफ कर दिया गया.